fbpx
Home » सौंदर्यता » चेहरे में निखार लाने का उपाय

चेहरे में निखार लाने का उपाय

गुलाब जल स्किन के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके एक नहीं बल्कि कई फायदे होते हैं, यह न सिर्फ स्किन को कूल करता है बल्कि झुर्रियों को दूर रखने में भी मदद करता है। अगर आप इसका रोज इस्तेमाल करें तो फर्क खुद महसूस कर सकेंगे।

सभी जानते हैं गुलाबजल व ग्लिसरीन चेहरे की त्वचा के लिए कितना फायदेमंद है, फिर भी बहुत कम लोग दोनों के मिश्रण फायदे अच्छी तरह से नहीं जानते।

मिश्रण का असर चेहरे की त्वचा पर सर्दी में व गर्मी में ज्यादा होता है। क्योंकि दोनो समय त्वचा या तो तैलीय हो जाती है या फिर रूखापन आ जाता है। आईये हम All Ayurvedic के माध्यम से आपको दोनों के मिश्रण इस्तेमाल के फायदे विस्तार से बता देते हैं।

गुलाबजल और ग्लिसरीन मिलाकर लगाना

गुलाबजल व ग्लिसरीन को मिलाकर चेहरे पर हलके हलके रगरने से त्वचा रूखेपन से निखारने में सहायक है। यह प्रक्रिया सोने से पहले करनी 5 मिनट के लिए चाहिए।

गुलाबजल व ग्लिसरीन को सप्ताह में 2 दिन लगाने से त्वचा की कोशिकाओं में नई जान आ जाती है। और त्वचा के छिद्रो में अन्दर जमने वाला मैल आसानी से मलने पर बाहर आ जाता है।

गुलाबजल व ग्लिसरीन त्वचा पर हलका रगडने से चेहरे पर खून संचार में सहायक है क्योंकि इसमें एन्टी एजिंग रोधक गुण होते हैं। जोकि चेहरे पर झुरियां पड़ने से रोकते हैं। चेहरा उम्र के हिसाब से कफी यंग व सुन्दर लगता है।

त्वचा को ढीलापन व रूखेपन को दूर करने का गुलाबजल व ग्लिसरीन एक खास समान्तर बनाने में दवा का काम करता है, इससे चेहरे में निखार व दाग धब्बे देर हो जाते हैं।

चेहरे पर बने मुहांसे के रोम छिद्र को ब्लेक स्पोट होने से बचाता है। त्वचा में चिकनाई व खिला-खिला दिखता है। इस तरह सप्ताह में 2 बाद चेहरे पर गुलाबजल व ग्लिसरीन के मिश्रण से अवश्य हल्की-हल्की मालिश 5 मिनट तक करें।

ज्यादातर यह प्रक्रिया रात को सोने से पहले करें, क्योंकि गुलाबजल व ग्लिसरीन में पाये जाने वाले एन्टी एजिंग रोधक गुण दिन की जगह रात को ज्यादा असर करते हैं।

नींबू के साथ गुलाब जल मिलाकर लगाना

नींबू में अम्लीय गुण होता है जबकि गुलाब जल में ठंडक देने का. जब इन दोनों को साथ में मिलाया जाता है तो यह एक बेहतरीन उत्पाद बन जाता है। मुंहासों को बढ़ने से रोकने और उनकी रोकथाम के लिए यह एक बेहतरीन उत्पाद है, यह डेड स्किन साफ करता है और चेहरा जवाँ बनाता है। नींबू के रस की जितनी भी मात्रा आप लें, गुलाब जल की मात्रा उसकी दोगुनी होनी चाहिए। इस मिश्रण को चेहरे पर पंद्रह मिनट तक लगाकर छोड़ दें और फिर साफ पानी से चेहरा साफ कर लें।

संतरे के छिलके के पाउडर को गुलाब जल में मिलाकर लगाना

संतरे के छिलके को धूप में सुखाकर उसे पीस लें। यह पाउडर त्वचा में निखार लाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है जो मुंहासों की समस्या को दूर करने में मददगार होता है. इस पाउडर में थोड़ी सी मात्रा में गुलाब जल मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें। इस पेस्ट को प्रभावित जगह पर लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। उसके बाद गुनगुने पानी से चेहरा साफ कर लें।

अदरक के साथ गुलाब जल को मिलाकर लगाना

अदरक में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाया जाता है. यह मुंहासों की समस्या के लिए बेहद कारगर उपाय है। मुंहासों की समस्या को दूर करने के लिए और भविष्य में उन्हें पनपने से रोकने के लिए इस मिश्रण का इस्तेमाल करना बेहद फायदेमंद होता है।

चंदन पाउडर के साथ गुलाब जल मिलाकर लगाना

चंदन पाउडर के साथ गुलाब जल मिलाकर लगाने से एक ओर जहां चेहरे पर निखार आता है वहीं मुंहासों की समस्या भी दूर हो जाती है, चंदन पाउडर में एंटी-बैक्टीरियल गुण होता है जिससे बैक्टीरिया पनपने नहीं पाते हैं साथ ही चेहरा चाँद की तरह चमकने लगेगा।

मुलतानी मिट्टी के साथ गुलाब जल का मिश्रण

रूप निखारने के लिए मुलतानी मिट्टी का इस्तेमाल सदियों से किया जाता रहा है। इसे गुलाब जल के साथ मिलाकर लगाने से एक ओर जहां त्वचा में निखार आता है वहीं त्वचा से जुड़ी कई समस्याएं भी दूर हो जाती हैं जैसे त्वचा का ढेलापन होना, झाइयां आना, ऑयली त्वचा आदि में फायदेमंद है।

गुलाबजल के अन्य फायदे | Rose Water Benefits

झुर्रियाँ को हटाता है : ये वाला बिंदु पढ़ कर खास कर महिलाओं और कन्याओं के, और कुछ पुरुषों के चेहरे पर हल्की मुस्कान आई होगी। जी हाँ! आपने सही पढ़ा, गुलाब जल को लगाने से झुर्रियाँ आनी कम हो जाती है। गुलाब जल के साथ मुल्तानी मिट्टी को मिला कर जो लेप बनता है वो अपने चेहरे पर लगाने से त्वचा को एक नयी जान मिल जाती है।

सनबर्न से बचाव : घर के बाहर तेज धूप हो तो गुलाब जल की कुछ बूंदें अपने शरीर पर छिड़क दे जिससे आपको सनबर्न की समस्या से निजात पा सकते है, क्योंकि गुलाब जल शरीर को ठंडक प्रदान करता है।

काले-धब्बों से निजात दिलाता है : आँखों के नीचे काले-धब्बे आ जाते है जो किसी को भी अच्छा नहीं लगता है। रोजाना गुलाब जल में भिगोयी हुयी रुई को 10 मिनट धब्बों पर रखने से धीरे-धीरे धब्बे हटने लग जाते है।

आँखों को ठंडा रखता है : तकनीकी का जमाना है तो आँखों पर दबाव आना लाज़िमी है। गुलाब जल की 2 से 3 बूंदे आँखों में डालने से आँखों को शांति और जलन से छुटकारा मिलता है। इससे अच्छी नींद भी आती है।

कील-मुहांसे से छुटकारा : त्वचा को सुंदर रखना इस समय का दस्तूर है। गुलाब जल के नियमित उपयोग से आप कील-मुहांसे से छुटकारा पा सकते है।

मुलायम बालों के लिये : रात को सोने से पहले गुलाब जल के 2-3 चम्मच लेकर सिर पर मालिश करके सुबह शैंपू से बालों को धोने से बाल मुलायम के साथ चमकदार भी हो जाते है।

ग्लिसरीन से सौंदर्यीकरण

ग्लिसरीन हमारे दैनिक सौंदर्य को बढ़ाने के लिए एक महत्वपूर्ण उत्पादों में से एक हैं। ये मुख्य रूप से चेहरे की त्वचा को नमी देती हैं। लेकिन ग्लिसरीन को इस्तेमाल करने के लिए और भी कई तरीके हैं। यहां कुछ सुझाव हैं कि आप किस तरीके से ग्लिसरीन का प्रयोग कर सकते हो।

ग्लिसरीन के फायदे | Glycerine Benefits

टान्सिलाइटिस : गर्म पानी में ग्लिसरीन मिलाकर गरारे करने से टान्सिलाईटिस ठीक हो जाता है।

जलना : जले हुए अंगों पर ग्लिसरीन लगाने से दर्द और जलन कम हो जाती है तथा छाले भी नहीं पड़ते हैं।

हाथों का सौन्दर्य : चौथाई चम्मच ग्लिसरीन, नींबू और गुलाबजल, 1 पिसा हुआ बादाम और 1 चम्मच दूध की मलाई को मिलाकर रात को सोते समय हाथों पर मलने से हाथ मुलायम होते हैं और त्वचा के रंग में निखार आता है।

नाखून : नाखूनों पर रात को ग्लिसरीन लगाने से नाखूनों का रूखापन दूर होता है।

त्वचा का फटना : त्वचा फटने पर ग्लिसरीन लगाने से लाभ मिलता है।

थकावट : थकावट होने पर पैरों में ग्लिसरीन की मालिश करने से लाभ मिलता है।

मुंह के छाले : होंठ के फट जाने पर ग्लिसरीन लगाने से लाभ मिलता है। ग्लिसरीन को रोजाना 3 बार होंठों पर लगाने होठ मुलायम हो जाते हैं।

टांसिल का बढ़ना : गर्म पानी में ग्लिसरीन को मिलाकर कुल्ला करने से गले मे काफी आराम आता है। ग्लिसरीन को फुरेरी (रूई के फाये से) से टांसिल पर लगाने से सूजन कम हो जाती है।

गले में गांठ का होना : गर्म पानी में ग्लिसरीन डालकर इससे गरारे करने से टॉन्सिलाइटिस (गले की गांठ) में आराम मिलता है।

कान में कीड़ें चले जाना : रूई की एक लम्बी सी बत्ती बनाकर इसे ग्लिसरीन में भिगोकर फिर इस बत्ती को कान के अन्दर डालकर धीरे-धीरे से घुमाएं और धीरे-धीरे ही इसे निकाल लें। कान के कीड़े मकोड़े होगें तो वो बाहर आ जायेंगे।

मेकअप सेटिंग स्प्रे : आजकल मेकअप सेटिंग स्प्रे जो जिसमें काफी रसायन होते हैं, ये मार्केट में भी उपलब्ध हैं। इसी कारण की वजह से हम आपको प्राकृतिक चीजों को इस्तेमाल करने का सुझाव देते हैं। ग्लिसरीन को गुलाब जल और नींबू के रस में मिलाकर लगाने से एक बेहतर मेकअप सेटिंग स्प्रे बनता हैं।

मिक्सचर बनाने के लिए 20 मिलीलिटर गुलाब जल, 2 बूंद ग्लिसरीन और 1 टेबलस्पून नींबू का रस मिक्स करके एक स्प्रे बोतल में स्टोर कर सकते हैं। इसको आप एक महीने तक इस्तेमाल कर सकते हैं, अगर आपकी ड्राई स्किन हैं तो आप विटामिन ई के कैप्सुल मिला सकते हैं।

फेशियल क्लिंसर और स्क्रब : आप ग्लिसरीन की मदद से एक बेहतरीन और रसायन मुक्त स्क्रब बना सकती हैं। इसके लिए एक टेबल स्पून चीनी लेकर ग्लिसरीन में मिक्स करें उसमें घुल जाने के बाद चीनी के बचें कणों की मदद से अपने चेहरे का स्क्रब करें।

घर के बनाया ये स्क्रब आपके चेहरे की डेड स्किन हटाकर आपके चेहरे पर निखार लाता हैं। इस स्क्रब को आप चेहरे के अलावा शरीर के दूसरे हिस्सों पर भी लगा सकतें हैं। इस मिक्सचर को आप मेकअप हटाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

फेशियल मास्क : इस मिक्सचर को आप चेहरे पर फेशियल मास्क के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं। ये आपकी स्किन तो नमी तो देता ही हैं साथ ही क्लीन और डिटॉक्सिफाय भी करता हैं।

इसे लगाने से आपकी स्किन पर झुर्रियां नहीं होती। इसको मिक्सचर को रूई की मदद से फेस पर 10 मिनट पर लगाएं और फिर ठंड़े पानी से धो लें।

मॉस्चराइजर : जैसे की आप जानते हैं कि ग्लिसरीन का मुख्य काम त्वचा बढ़ाना हैं, खासकर सर्दियों में… इसे इस्तमाल करने के बाद आपका रसायन युक्त मॉस्चराइजर की ओर धारणा बदल जाएगी। इसकी सबसे अच्छी खासियत ये है कि ये हर स्किन के लिए बना हैं।

गुलाब जल समृद्ध है जो एक कैसेल के रूप में काम करता हैं, ये प्रभावशाली उपचार एक्ने, मुहांसे जैसी परेशानियों को खत्म करता हैं। अपनी दैनिक सुंदरता को बढ़ाने के लिए इसे रोजाना इस्तेमाल करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!