fbpx

इन लोगो को भूलकर भी बादाम नही खाने चाहिए

बादाम पोषक तत्वों का घर होता है, बादाम को शुरू से ही आपके असीम स्वास्थ्य के लिए जाना जाता है। बादाम में मौजूद पोषक तत्वों को अवशोषित करने के लिए इससे खाने से पहले रात भर पानी मे भिगोना चाहिए।

भीगे बादाम ज्यादा मुलायम होते है और इन्हें आसानी से पचाया जा सकता है। आज हम आपको All Ayurvedic के माध्यम से बताएंगे कि किन लोगों को बादाम से परहेज करना चाहिए।

इन लोगो को होते है बिना भिगोए बादाम खाने के ये नुकसान 

व्यस्त जीवनशैली, अनुचित आहार और तनाव कई रोगों और विकारों को जन्म देते है। उच्च रक्तचाप अब एक प्रमुख स्वास्थ्य समस्या बन गई है। आज भारत मे लाखो लोग उच्च रक्तचाप की बीमारी से ग्रसित है, उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए इलाज से ज्यादा महत्वपूर्ण है सावधानियां।

इस समस्या में बिना भिगोए हुए बादाम का सेवन बिल्कुल नही करना चाहिए इस बात का विशेष ध्यान रखे, यदि बादाम का सेवन करना है तो भीगोकर करे।

पथरी की बीमारी से पीड़ित लोगों को भी बादाम खाने से परहेज करना चाहिए।किडनी में पथरी या गॉल ब्‍लेडर संबंधी किसी बीमारी के होने पर बादाम का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें ऑक्‍सलेट अधिक मात्रा में होता है।

लोगो का मानना है कि दिन में नियमित रूप से फाइबर का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। फाइबर हमारे पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के साथ साथ अनेक बीमारियों से भी बचाता है।

बादाम फाइबर युक्त होते है और इनके सेवन से हमारा पाचन ठीक रहता है लेकिन बहुत अधिक मात्रा में इनका सेवन नही करना चाहिए ऐसा करने से पाचन संबंधि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले विटामिन ई की आवश्यकता से अधिक मात्रा हमारे शरीर को नुकसान पहुंचाती है। बादाम में विटामिन ई भरपूर होता है और इसके ज्यादा सेवन से खून का पतला होना और थकान आदि होने लगती है।

अगर आप किसी हेल्थ प्रॉब्लम के कारण एंटीबायोटिक मेडिसन ले रहे हैं तो बादाम खाना बंद कर दें।

मोटापा एक गंभीर समस्या है जिससे आपको कई गंभीर रोगों का खतरा होता है। यदि आप वजन को कम करना चाहते है तो फिर बादाम खाने से परहेज करें। आप भिगोये हुए बादाम खा सकते है क्योंकि यह वजन कम करने में सहायक है इसका कारण है इसको भिगोकर खाने से इसकी वसा और कैलोरी कम हो जाती है।

जो लोग एसिडिटी की समस्या से परेशान रहते है उन्हें भी बादाम नही खाने चाहिए।

आखिर लोग बादाम को भीगोकर क्यो खाते हैं, जानिये इसके अनोखे फायदे

दरअसल बादाम के छिलके में टैनीन नाम का एक तत्व मौजूद होता है जो कि इन पोषत तत्वों के अवशोषण को रोक लेता है। यानी बादाम के साथ ये पोषक तत्व आपके शरीर में जाते तो हैं, लेकिन इसके छिलके की वजह से वो आप तक नहीं पहुंच पाते।

लेकिन अगर आप बादाम को पानी में भिगोते हैं तो ये छिलका आसानी से उतर जाता है और नट्स को पोषक तत्वों को रिहा करने की अनुमति देता है। तो इसी वजह से कहा जाता है कि कच्चे बादाम की जगह आप भीगे हुए बादाम खाएं। आइये अब जानते हैं भीगे बादाम खाने से क्या-क्या लाभ हो सकते हैं।

बादाम को हमेशा भिगोकर ही क्यो खाने चाहिए, जानिए इसके फायदे

वज़न घटाने में मददगार : अगर आप वज़न घटा रहे हैं तो इसमें भीगे बादाम आपकी काफी मदद कर सकते हैं। दरअसल, इसमें मोनो-अनसेचुरेटेड फैट होते हैं जो आपकी भूख कम कर देते हैं। भीगा हुआ बादाम एंटीऑक्‍सीडेंट का अच्‍छा स्रोत माना जाता है।

यह फ्री-रैडिकल्स के नुकसान से बचाकर उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है। भीगे बादाम में विटामिन B17 और फोलिक एसिड कैंसर से लड़ने और जन्‍म दोष को दूर करने के लिए अच्छा होता हैं।

पाचन क्रिया बेहतर बनाएं : अगर आपको पाचनतंत्र से जुड़ी कोई समस्या है तो आप भीगे हुए बादाम खाना शुरू कर दें। ये आपके पाचन तंत्र को दुरुस्त बनाता है। अगर आप भीगे हुए बादाम खाते हैं तो आपके पेट के लिए प्रोटीन हज़म करना आसान हो जाता है।

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बादाम कि छिलकों में एंजाइम होते हैं, और जब वो अलग हो जाता है तो बाकी का बादाम फैट आसानी से तोड़ पाता है। फिर पाचन क्रिया और पोषक तत्वों का अवशोषण आसान हो जाता है।

दिल को मजबूत रखे : अगर आप चाहते हैं कि आपका दिल स्वस्थ रहे तो रोज़ थोड़े से भीगे बादाम खाने की आदत डाल लीजिए।

दरअसल, बादाम अपने एंटीऑक्सीडेंट गुणों के कारण एलडीएल कॉलेस्ट्रॉल का ऑक्सीकरण रोकता है। इससे दिल और उसका सिस्टम हेल्दी बना रहता है।

हाई ब्लड प्रेशर नियंत्रित करे : बादाम हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए अच्छे होते हैं। ये बात रिसर्च से भी साबित हो चुकी है।

जर्नल फ्री रेडिकल रिसर्च में प्रकाशित एक स्टडी के मुताबिक वैज्ञानिकों ने पाया कि बादाम का सेवन करने से ब्लड में अल्फाल टोकोफेरॉल की मात्रा बढ़ जाती है, जो किसी के भी ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता करता है। इसलिए अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत रहती है तो आपको भीगे बादाम खाने चाहिए।

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद : भीगे हुए बादाम में फॉलिक एसिड की मात्रा ज्यादा होती है, ये पोषक तत्व गर्भ के शिशु के मस्तिष्क और न्यूरोलॉजिकल सिस्टम के विकास में मददगार साबित होता है।

जब बादाम को भिगा दिया जाता है तो प्रेगनेंट महिलाओं के लिए उसे खाना आसान हो जाता है क्योंकि इसे पचाना आसान होता है, और इस अवधि में उनकी पाचन शक्ति कमजोर हो चुकी होती है।

बैड कॉलेस्ट्रॉल कम करे : कॉलेस्ट्रॉल शरीर के लिए अच्छा नहीं होता। शरीर में अगर बैड कॉलेस्ट्रॉल बढ़ जाएगा तो आर्टरीज़ यानी धमनियों में रुकावट पैदा होगी।

और जब आपकी धमनियां सही से काम नहीं कर पाएंगी तो आपके लिए कई स्वास्थ्य समस्याएं पैदा हो सकती हैं। अगर आप भीगे बादाम रोज़ खाएंगे तो आपके शरीर में गुड कॉलेस्ट्रॉल बढ़ेगा और बैड कॉलेस्ट्रॉल कम होने लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!