fbpx
Home » पेट के रोग » पेट के सभी रोगों का एक उपाय

पेट के सभी रोगों का एक उपाय

Stomach Problems | Digestion | Constipation | Gas | Cholesterol | Hemoglobin | Acidity

जीरे में कई तरह के गुण छुपे हुए हैं जिनसे आपकी स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं दूर हो सकती हैं। जीरा काला, सफेद और मटमैले रंग में उपलब्ध होता है। जीरे के स्वास्थ्य संबंधी गुण इसे न केवल भारतीय खाने का अहम हिस्सा बनाते हैं। लेकिन जीरे का पानी भी आपको उतना ही फायदा देगा जितना जीरा, आईये जानते है All Ayurvedic के माध्यम से कैसे…..

बनाने का तरीका | Stomach Problems | Digestion | Constipation | Gas | Cholesterol | Hemoglobin | Acidity

एक गिलास पानी में 2 चम्मच जीरे को रात के समय भिगो दें। सुबह इसे पानी के जीरे के साथ उबाल कर छान लें। अब इसे ठंडा होने पर पी लें। इसमें मौजूद आयरन, कॉपर, पोटैशियम और मैग्नीशियम जैसे गुण आपको कई प्रॉब्लम से बचाते है।

इस पानी के फायदे | Ayurveda

एसिडिटी और ब्लड सर्कुलेशन : खाली पेट इसके सेवन से पेट फूलना और एसिडिटी की प्रॉब्लम कम होती है। इसके साथ ही इसे पीने से पूरी बॉडी डिटॉक्स होती है। जिससे आप कई बीमारियों से दूर रहते है। जीरे का पानी ब्लड सर्कुलेशन ठीक करके शरीर दर्द की समस्या को दूर करता है।

डाइजेशन, हीमोग्लोबिन, सिरदर्द और पेट दर्द : रोजाना इसके सेवन से डाइजेशन भी ठीक रहता है।इसमें मौजूद आयरन ब्लड में हीमोग्लोबिन लेवल को बढ़ाता है। जिससे खून की कमी पूरी हो जाती है।

इसके अलावा सिरदर्द में इसे पीने से दर्द गायब हो जाता है। पेट दर्द होने पर इसके पानी का सेवन करें। इससे पेट के अंदर ठंडक पहुंचेगी और दर्द ठीक हो जाएगा।

वजन और कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल : नियमित रुप से इसके पानी का सेवन करने से आपका वजन कम होगा और साथ ही इससे कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल में रहेगा। इससे आपको हार्ट डिजीज होने का खतरा नहीं रहेगा।

कई बार खाने के तुरंत बाद या फिर गैस के वजह से पेट काफी फूल जाता है जिससे हमे बहुत तकलीफ होती है। गलत खाद्य पदार्थों के वजह से भी पेट फूल सकता है। यदि आप भी पेट फूलने के वजह से परेशान हैं तो बताये गए इन घरेलु उपायों को अपनायें और पेट फूलने की समस्या से निजात पाए।

पेट फूलने की समस्या से पायें निजात, अपनायें ये उपाय | Stomach Treatment By Ayurveda

तुलसी : अगर खाने के बाद या फिर किसी और कारण से आपका पेट रोजाना फूल जाता है तो तुलसी आपके लिए काफी फायदेमंद है। तुलसी का प्रयोग करके आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। प्रतिदिन खाली पेट रोज सुबह कुछ ताजी तुलसी के पत्तियों को चबाने से इस समस्या से काफी राहत मिलती है।

पुदीना : पुदीना पेट को पचाने में काफी मददगार होता है। पुदीने के पत्ती को पीस कर इसको चीनी के साथ मिला कर घोल बना लें और इसको पी लें। कुछ ही समय में पेट का फूलना सही हो जायेगा।

गुनगुना पानी : गुनगुना पानी भी इस समस्या में काफी फायदेमंद है। अगर आपका पेट हर रोज फूल जाता है तो हल्का गुनगुना पानी आपके लिए काफी फायदेमंद है। यह पेट की अपच को दूर कर पेट फूलने की समस्या से राहत दिलाता है।

सौंफ : सौंफ भी पेट फूलने पर हम यूज़ कर सकते हैं। सौंफ के बीजों में एंटी माइक्रोबियल गुण होते हैं जो पेट फूलने या गैस की स्थिति में काफी फायदा करता है।

अजवाइन और काला नमक : एक चम्मच अजवाइन के साथ चुटकी भर काला नमक भोजन करने के बाद चबाकर खाने से पेट की गैस से छुटकारा मिलता है।

अदरक और नींबू : अदरक और नींबू का रस एक-एक चम्मच की मात्रा में लेकर उसमें थोड़ा-सा काला नमक मिलाकर भोजन के बाद दोनों समय सेवन करने से गैस की सारी तकलीफें दूर हो जाती हैं और खाना भी ठीक से हजम हो जाता है।

लहसुन और हींग : भोजन करते समय बीच-बीच में लहसुन, हींग थोड़ी मात्रा में खाते रहने से गैस की समस्या से छुटकारा मिलता है।

हरड और सोंठ : हरड, सोंठ का पाउडर आधा-आधा चम्मच की मात्रा में लेकर उसमें थोड़ा-सा सेंधा नमक मिलाकर भोजन के बाद पानी से सेवन करने से पाचन ठीक होता है और पेट की गैस की समस्या से भी छुटकारा मिलता है।

नीबू का रस व मूली : नीबू का रस व मूली खाने से गैस की तकलीफ नहीं होती और पाचन क्रिया सुधरती है।

अजवायन के चूर्ण को गर्म पानी के साथ : इसके अतिरिक्त सिर्फ अजवायन के चूर्ण को गर्म पानी के साथ सेवन करने से अफारा, पेट का तनाव, बदहजमी आदि रोगों में लाभ होता है। आवश्यकतानुसार 1-2 सप्ताह तक लगातार प्रयोग करें। इससे पेट की गैस की समस्या से छुटकारा मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *