fbpx
Home » पेट के रोग » पेट के रोगों को ठीक करने का उपाय

पेट के रोगों को ठीक करने का उपाय

हर बदलते मौसम और खान-पान में गड़बड़ी के चलते अक्सर लोगों का पेट खराब हो जाता है। ज्यादा मसालेदार खाना और बाहर का खाना खाने की वजह से पेट खराब होने की समस्या आम है।

पेट हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। अगर आपका पेट साफ है तो एक अच्छा निरोगी जीवन जी सकते हैं। अगर आपका पेट साफ नहीं रहता तो आपको बहुत सारी बीमारियां घेर लेती है।

जैसे भूख ना लगना लीवर संबंधी परेशानी पेट दर्द, कब्ज, गैस और अगर आप इस बीमारी से लंबे समय से पीड़ित है तो इसका असर आपको अपनी त्वचा पर भी मिल जाता है।

लंबे समय से इस बीमारी से पीड़ित रहने पर आपकी त्वचा की चमक गायब हो जाएगी और आपकी त्वचा मुरझाई हुई सी लगेगी। और आपको स्किन संबंधी और भी कई सारी समस्याएं हो सकती हैं। इसीलिए दोस्तों पेट का साफ होना बहुत जरूरी है। चलिए जानते हैं किस तरह आप अपने पेट को साफ कर सकते हैं।

अक्सर कई बार अनहाइजीनिक खाने पीने के चीज़ों की वजह से शरीर में गंदगी पहुंचती है और पेट में संक्रमण हो जाता है। जिसकी वजह से बार-बार टॉयलेट जाना पड़ता है और शरीर में कमजोरी महसूस होने लगती है। अगर आपका पेट खराब हो जाता है तो आप अपने पेट की समस्या को बिना दवाइयों के कुछ घरेलू नुस्खों से भी ठीक कर सकते हैं।

पेट ठीक करने का कारगर और आसान घरेलू उपाय 

इस नुस्खे का प्रयोग आपको सुबह के समय करना है नुस्खे के लिए आपको एक कप गर्म पानी और उसमें आधा नींबू निचोड़ ले और एक चम्मच अरंडी (कैस्टर ऑयल) का तेल मिला ले और आधा चम्मच नमक मिलाकर इन सब चीजों को अच्छी तरह मिक्स कर ले एक गिलास गुनगुना पानी पीने के बाद इस मिश्रण का सेवन करें।

15 से 20 मिनट के बाद ही इसका असर आपको दिख जाएगा और आपका पेट पूरी तरह साफ हो जाएगा और पेट की तमाम परेशानीयाँ दूर हो जाएगी। रात को सोते वक्त अरंडी के तेल को हल्के गरम दूध में मिलाकर पीजिए। इससे पेट साफ होगा।

पेट की समस्याओं में यह घरेलू उपाय करें 

ज्यादा पानी पिएं : पेट खराब होने की वजह से बार-बार जुलाब होने लगता है जिससे शरीर में पानी की कमी हो जाती है। इसलिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए ताकि शरीर में पानी की कमी न हो। पानी के अलावा जूस और नारियल पानी का सेवन भी किया जा सकता है।

पुदीने का सेवन करे : पुदीना पेट की समस्या से निजात दिलाने का एक कारगर नुस्खा है. इसका इस्तेमाल सालों से पेट के रोगों का इलाज करने के लिए किया जाता रहा है. पुदीने में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट पाचन क्रिया को सुधारने के साथ ही पेट की तमाम समस्याओं से निजात दिलाते हैं।

अदरक और दूध का सेवन : संक्रमण की वजह से जब पेट आपके कंट्रोल के बाहर हो जाए तब ऐसी हालत में अदरक और दूध काफी फायदेमंद हो सकता है. अदरक में एंटीफंगल और एंटी-बैक्टीरियल तत्व पाए जाते हैं. इसलिए एक चम्मच अदरक पाउडर को दूध में मिलाकर पीने से पेट को काफी आराम मिलता है।

दही का सेवन : पेट से जुडी समस्या से छुटकारा पाने के लिए दही का इस्तेमाल करना चाहिए. दही में मौजूद बैक्टीरिया संतुलन बनाने में अहम भूमिका निभाते हैं. दही खाने से पेट को ठंडक मिलती है जिससे पेट जल्दी ठीक होता है।

केले का सेवन : पेट के आउट ऑफ कंट्रोल होने की वजह से अगर आप बार-बार जुलाब से परेशान हो चुके हैं तो ऐसे में केले का इस्तेमाल करना काफी कारगर साबित हो सकता है. केले में मौजूद पेक्टिन पेट को बांधने का काम करता है. जिससे पेट को जल्दी ही आराम मिलता है।

नींबू और काला नमक : सुबह उठने के बाद नींबू के रस को काला नमक मिलाकर पानी के साथ सेवन कीजिए। इससे पेट साफ होगा।

त्रिफला : 20 ग्राम त्रिफला रात को एक लिटर पानी में भिगोकर रख दीजिए। सुबह उठने के बाद त्रिफला को छानकर उस पानी को पी लीजिए। इससे कुछ ही दिनों में कब्ज की शिकायत दूर हो जाएगी। त्रिफला पेट के सभी रोगों में गुणकारी है।

शहद : कब्ज के लिए शहद बहुत फायदेमंद है। रात को सोने से पहले एक चम्‍मच शहद को एक गिलास पानी के साथ मिलाकर नियमित रूप से पीने से कब्‍ज दूर हो जाता है।

हर्र : हर रोज रात में हर्र को पीसकर बारीक चूर्ण बना लीजिए, इस चूर्ण को कुनकुने पानी के साथ पीजिए। कब्ज दूर होगा और पेट में गैस बनना बंद हो जाएगा।

मुनक्का : मुनक्का में कब्ज नष्ट करने के तत्‍व मौजूद होते हैं। 6-7 मुनक्‍का रोज रात को सोने से पहले खाने से कब्ज समाप्त होती है। पेट सही करने का सबसे अच्छा उपाय है क्योंकि यह लिवर और किडनी की सफाई करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *