fbpx

चेहरे की झुर्रियां दूर करने का आसान उपाय

उम्र बढ़ने के साथ साथ चेहरे में झुर्रियां आने लगती है और यह एक बायोलॉजिकल प्रोसेस है लेकिन जब त्वचा की सही देखभाल नहीं होती है तो समय से पहले ही चेहरे में झुर्रियां आने लगती है हाल में बाबा रामदेव ने बताएं कुछ ऐसे उपाए जिसको अपनाने से त्वचा स्वस्थ रहेगी और झुर्रियां दूर होने लगेगी।

अतः झाइयों का इलाज जितना जल्दी हो सके प्राकृतिक तरीकों से कर लेना चाहिए. ईलाज से बेहतर है कि हम कुछ छोटी छोटी बातों को ध्यान में रखकर अपनी त्वचा को झाइयों से बचाए रखे। महिलाएं अपनी त्वचा सम्बन्धी समस्याओं को दूर करने के लिए न जाने क्या क्या तरिके आजमाती है।

कभी कॉस्मेटिक क्रीम, इंजेक्शन, सर्जरी आदि, परन्तु यें सब क्यूँ? केवल अपने आपको खुबसूरत दिखाने के लिए. अपने आपको सुन्दर बनाने के लिए क्या इन सब तरीको को अपनाना जरूरी है? बिलकुल नहीं. जब हमारी प्रकृति में ही अनेक प्रकार की वनस्पती व जड़ी-बूटियां उपलब्ध है जिनके इस्तेमाल से हम अपने रूप-सौन्दर्य को निखार सकते है।

जब हमारे पास खुबसूरत दिखने के प्राक्रतिक तरीके है तो हम निरंतर कृत्रिम खूबसूरती की ओर क्यूँ आकर्षिक होते है, क्यूँ हम कृत्रिम खूबसूरती पाने के लिए अपना समय और पैसा नष्ट करते है? जबकि हम इस बात से भी अनजान नहीं है कि कृत्रिम खुबसूरती ज्यादा दिनों तक नहीं रहती है, वह जल्दी ही हमारा साथ छोड़ देती है तथा प्राकृतिक सुन्दरता हमेशा हमें जवां बनाए रखती है…

झाइयाँ होने पर कुछ सामान्य ध्यान देने योग्य बातें :

झाइयाँ होने पर अक्सर महिलाएं ब्लीच का इस्तेमाल करती है. वें यह सोचती है कि ब्लीच झाइयाँ छिपाने का सबसे बढ़िया तरीका है, जो कि बिलकुल गलत है. ब्लीच झाइयों को छिपाता अवश्य है परन्तु केवल कुछ समय के लिए. ब्लीच से झाइयों के दागो में बहुत कम समय के लिए ही परिवर्तन आता है. इसके साथ साथ ब्लीच करवाने के बाद हमारी त्वचा सूर्य की किरणों के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाती है. जिसके परिणामस्वरूप अल्ट्रा-वायलेट किरणों के प्रभाव के कारण झाइयाँ और अधिक गहरी हो जाती है. इसके अलावा लम्बे समय से हमारी त्वचा पर रही झाइयाँ या झाई हमारी त्वचा के लिए और अधिक हानिकारक हो जाती है. झाइयाँ अधिक पुरानी होने पर अधिक गहरी हो जाती है तथा फिर इनका इलाज करना आसान नहीं रह जाता, पुरानी होने पर इनका इलाज भी मुश्किल हो जाता है. ऐसी स्तिथी में इनका इलाज किसी कुशल व अनुभवी विशेषज्ञ द्वारा करना चाहिए।

झुर्रियां दूर करने के 5 उपाए :

मुल्तानी मिटटी, टमाटर का रस, खीरे का रस और शहद : मुल्तानी मिटटी चेहरे की महीन रेखाओं से निजात दिलाने में बहुत ज्यादा फायदेमंद होती है, करीब आधे घंटे मुल्तानी मिटटी को पानी में भिगो दें और जब यह गल जाएं तो उसमे टमाटर का रस, खीरे का रस और शहद मिलाके पेस्ट बना लें, रोजाना इस पेस्ट का उपयोग करने से चेहरे की झुर्रियां धीरे-धीरे दूर होने लगेंगी।

ऑलिव आयल या ज़ैतून का तेल : ऑलिव आयल को चेहरे में लगाने से बहुत फायदे मिलते है, रोजाना इससे मालिश करने से चेहरे पे चमक और ग्लो आता है और फाइन लाइन्स भी धीरे-धीरे कम होने लगती है।

शहद, मलाई और निम्बू : झुर्रियो से निजात पाने के लिए चेहरे में शहद, मलाई और निम्बू का पेस्ट बना के मालिश करें, इससे झुर्रियां भी दूर हो जाएंगी और रंग भी साफ़ हो जाएगा।

बादाम के तेल : आलमंड आयल यानी बादाम के तेल को चेहरे में लगाने से झुर्रियां बहुत जल्दी दूर होने लगती है, रोजाना रात इस तेल से मसाज करने से झुर्रियां भी चली जाती है और साथ-साथ आँखों के काले घेरे यानी ब्लैकहैडस भी कम हो जाते है।

अनानास का पल्प : अनानास त्वचा के लिए बहुत अच्छा होता है क्योंकि इसमें विटामिन सी पाया जाता है, अनानास के पल्प को रोजाना कम से कम 10 मिनट चेहरे में लगाएं और धो लें, ऐसा करने से चहरे की झुर्रियां बहुत जल्द दूर होने लगेंगी।

यह 3 फ़ेस मास्क त्वचा के लिए वरदान है :

एलो वेरा मास्क : जब हम घर पे बने मास्क की बात कर रहे हैं तो एलो वेरा कैसे छूट सकता है, छूट सकता है क्या ? एलो वेरा वैसे तो आमतौर पे घर पे पायी जाने वाली सामग्री नहीं है, लेकिन जलने या झुलसी हुई त्वचा पे इसके फायदों को देखते हुए यह अधिकांश घरो में आजकल पायी जाती है । आप अपनी सुविधानुसार एलो वेरा के पत्तो से मिलने वाले मिश्रण या फिर एलो वेरा जेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस मिश्रण को बनाने के लिए पर्याप्त मात्रा में एलो वेरा के रस या जेल को ले लो, और उसमे कुछ बुँदे शहद की मिला लो। इसे अच्छी मात्रा में अपने चेहरे पे लगाए और 20 से 25 मिनट के बाद ठन्डे पानी से धो ले।

केला और गुलाब जल : आप गुलाब जल की सहायता से भी केले का मास्क बना सकते हैं। छीले हुए केले के साथ इस मास्क को बनाने के लिए आपको गुलाब जल की आवश्यकता होगी। गुलाब जल एक बहुत ही अच्छा तरल पदार्थ है जो की आपकी त्वचा को गहराई से साफ़ करता है। इसकी विधि बहुत ही आसान है, मसले हुए केले में कुछ बुँदे गुलाब जल की डाल के अपने चेहरे पे लगा ले I 20 मिनट के बाद अपना चेहरे धो ले।

पपीते का मास्क : पपीते में कई सारे एंजाइम होते है जो की त्वचा के बुढापे से लड़ने में वैज्ञानिक रूप से सिद्ध हो चुके हैं। साथ ही यह झुरझुरी त्वचा का मुकाबला करने में मदद कर के, त्वचा को कसने का कार्य प्रारम्भ करते हैं। समय के साथ बेहतरीन परिणाम पाने के लिए पपीते के रस या मसले हुए पपीते को सीधे अपने चेहरे पे लगा सकता हैं। लेकिन अगर आप रातो रात परिणाम चाहते है तो आपको इसके साथ कुछ और सामग्रियां मिलनी पड़ेंगी। पपीते को और ज़्यादा फायदेमंद करने के लिए इसके साथ चावल का आटा और शहद को मिला सकते हैं I छीले हुए पपीते को मसल के एक मिश्रण बना ले, इसमें आधा कप चावल का आटा और 2 चम्मच शहद डाल के अच्छे से मिला ले I इस मिश्रण को अपने चेहरे पे अच्छी मात्रा में लगा ले और 20 से 25 मिनट के बाद ठन्डे पानी से धो ले।

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!