fbpx

काजू में पाए जाते है ये 15 चमत्कारी गुण जो मधुमेह, क़ब्ज़, ह्रदय, सफ़ेद दाग़, पेट की गैस से लगाकर पौरुष शक्ति तक वरदान है

  • काजू के पेड़ सामान्य ऊंचाई के होते हैं जो जंगलों और पहाड़ों पर अधिक पाए जाते हैं। इसके पेड़ अफ्रीका और भारत में अधिक होते हैं। काजू की दो जातियां होती हैं- काली और सफेद। इसकी छाल ऊपर से कड़ी होती है और अन्दर से चिकनी होती है। 
  • यदि इसकी छाल शरीर पर लग जाए तो शरीर पर छाले उग आते हैं। काजू के छिलके के अन्दर ही काजू होता है। काजू कोमल, सफेद और स्वादिष्ट होता है। काजू खाकर पानी पीने से भूख मिट जाती है लेकिन अधिक मात्रा में खाने से पेट में दर्द हो जाता है। 
  • काजू के पके फल खाने के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं और सूखे बीजों को चीनी के पाक में मिलाकर मिठाई बनाई जाती है।

किन 15 रोगों से बचाता है काजू :

1. पैर की कमजोरी : पैरों की कमजरी को दूर करने के लिए काजू के दूध का लेप पैरों पर करें। इससे पैरों की कमजोरी दूर होती है।

2. फोड़ा होना : काजू की कच्ची गिरी और तीवर के फल को ठंडे पानी में घिसकर लेप बनाकर फोड़े पर लगाने से फोड़ा पककर जल्दी ठीक होता है।

3. नलविकार : प्रतिदिन सुबह के समय काजू के साथ कालीमिर्च व चीनी खाने से नलविकार दूर होता है।

4. दिमाग की कमजोरी : सर्दियों के मौसम में सुबह के समय रोज खाली पेट 20 ग्राम काजू खाकर ऊपर से शहद चाटने से दिमाग की कमजोरी दूर होती है और स्मरण शक्ति बढ़ती है।

5. पेट की गैस : काजू के पके फल को कालीमिर्च व नमक के साथ 3-4 दिनों तक सुबह के समय सेवन करने से पेट की गैस नष्ट होती है।

6. हृदय : रिसर्च में पाया गया है की काजू हृदय को स्वस्थ बनाये रखने में बड़ा ही अहम योगदान देता है।

7. मोटापा : काजू खाने से आपका वज़न नियंत्रण में रहता है, परन्तु इस बात का भी ध्यान रहे की इसे जरूरत से ज़्यादा खाने से वेट गेन हो सकता है।

8. कब्ज : द्राक्षा या हरी द्राक्षा के साथ 30 ग्राम काजू खाने से कब्ज दूर होती है।

9. पौरुष शक्ति : काजू खाने से धातु पुष्ट होती है। जो व्यक्ति इसका नियमित सेवन करता है उसकी पौरुष शक्ति कई गुना बढ़ जाती है।

10. हाथ-पैर फटना : काजू का तेल हाथ-पैरों की त्वचा पर लगाने से त्वचा नहीं फटती है। इसके तेल का प्रयोग एड़ियां फटने पर भी किया जाता है। मस्सों पर इसका तेल लगाने से मस्से सूखकर नष्ट होते हैं।

11. हड्डियों को मजबूत रखता है – काजू में प्रोटीन बहुत अधिक मात्र में पाई जाती है, जो आपकी हड्डियों को मजबूत बनाये रखता है।

12. सफेद दाग : रोजाना काजू खाने से श्वेत कुष्ठ (सफेद दाग) समाप्त हो जाता है।

13. मधुमेह : हाल ही में रिसर्च के मुताबिक काजू के लगातार इउपयोग करने से मधुमेह का खतरा कम होता है और अगर आपको पहले से मधुमेह है तो उसको बढ़ने से रोकता है।

14. दाँत : काजू दाँतों और मसूड़ो को स्वस्थ रखता है। इसके लगातार इस्तेमाल से दातों को मजबूती मिलती है। इसमें उपलब्ध रसायन दातों को कमज़ोर होने से बचाता है।

15. कैंसर : काजू में पाये जाने वाले पोषक पदार्थ और रसायन कैंसर से लड़ने में कारगर साबित होते है।

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!