fbpx

आप भी सोते है सीधा, उल्टा या दाई तरफ तो जान ले ये बाते वरना ज़िन्दगी भर पछताते रह जाओगे

मनुष्य की ज़िन्दगी में नींद काफी ज़रूरी है अगर आप सही से नींद नहीं ले पाते है तो पूरा दिन आपको नींद आती रहेगी और आप कोई भी काम सही से नहीं कर पाएंगे. साइंस के हिसाब से हर मनुष्य को लगभग 8 घंटे सोना चाहिए जिससे हमारी नींद पूरी हो सके और सुबह उठने पर हम फ्रेश महसूस कर सके।

सिर्फ 8 घंटे सोने से ही आपकी नींद पूरी नहीं होती है बल्कि नींद के साथ साथ आपको सही पोजीशन से भी सोना चाहिए जिससे की आपके शरीर को भी नुकसान न हो और आपकी नींद भी पूरी हो जाये. आज हम आपको बताने जा रहे है की बेहतर स्वास्थ के लिए किस पोजीशन में सोना चाहिए।

हर कोई मनुष्य कुल 4 पोजीशन में सोता है जैसे की दाई तरफ, बाई तरफ, सीधा और उल्टा याकि की पेट के बल लेकिन इनमे से कौन सी पोजीशन में सोना हमारे शरीर के लिए अच्छा है ये आप नहीं जानते होंगे।

अगर आप भी बाये तरफ सोते है तो ये आपके लिए काफी अच्छा होता है क्योंकि आपके शरीर में एक पूरा सिस्टम बना हुआ है जो आपके सोने के तरीके से हिसाब से आपकी सेहत का ध्यान रखता है.जब आप बाई तरफ सोते हो तब आपका शरीर विशेष पदार्थो को मजबूत बनाता है लेकिन जब आप दाई तरफ सोते हो तो आपके शरीर के विशेष पदार्थ सही से काम नहीं कर पाता है।

जब आप खाना खाने के बाद बाई तरफ सोते हो तब आपका खाना धीरे धीरे पचता है और आपका शरीर का तापमान भी सही रहता है, लेकिन जब आप दे तरफ सोते हो तब आपका खाना जल्दी जल्दी पचता है जो शरीर के लिए काफी नुकसानदायक होता है इसीलिए को कोशिश करे की खाना खाने के बाद बाई तरफ ही सोए।

बाएं तरफ पाचन तंत्र से सम्बन्धी महत्वपूर्ण अंग स्थित होते हैं और साथ ही साथ ह्रदय भी बायाँ तरफ होता है. बायाँ तरफ करके सोने से ह्रदय को प्राकृतिक सुरक्षा मिलती है, इसके अलावा खाया हुआ भोजन सही ढंग से पचता है. वैज्ञानिकों ने साबित कर दिया है कि बाएं तरफ सोने से दायें करके सोने की तुलना में ज्यादा फायदेमंद है। बाएं तरफ सोने से रक्त संचार ठीक रहता है जबकि दायाँ सोने से शरीर में रक्त प्रवाह के लिए ह्रदय ज्यादा पम्पिंग नहीं कर पाता है और बाकि हिस्सों में रक्त संचार के लिए उसे अधिक जोर लगाना पड़ता है, जो कि ह्रदय के लिए उचित नहीं है।

अगर आप पेट के बल सोते है तो आपके शरीर को सबसे ज़्यादा नुकसान होता है क्योंकि पेट के बल सोने पर हमारे पैर पर और हमारे शरीर पर ज़्यादा वजन पड़ता हमारे शरीर को काफी नुकसान होता है और डॉक्टर का भी यही मानना है की सोने की सब से ख़राब पोजीशन पेट के बल सोना है इसीलिए भूल से भी कभी पेट के बल न सोए।

घुटने मोड़कर न सोएं : एक रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर के 40 प्रतिशत लोग घुटने मोड़े हुए पोजीशन में सोते हैं. इस पोजीशन में सोने से घुटने के जॉइंट पर बुरा प्रभाव पड़ता है और उसमें दर्द तथा थकान की समस्या होने लगती है. अगर घुटने मोड़कर सोना ही है तो दोनों घुटनों के बीच तकिया रख दें. अगर स्वस्थ और अच्छी नींद लेना है तो इस पोजीशन न सोएं वही बेहतर है, इसके जगह पैर सीधा करके सो सकते हैं।

loading...
Share:

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!