fbpx

इन दो पत्तियों के सेवन से मधुमेह रोगियों को नया जीवन मिल सकता है, ये पत्तियाँ बड़ी ही आसानी से आपके घर के पास मिल जाएगी

आज कल मधुमेह यानी शुगर की बीमारी होना एक आम सी बात बन हैं। हर घर में किसी न किसी को शुगर की बीमारी होती है वैसे तो पुरे विश्व में शुगर तेजी से फैलते जा रही है लेकिन भारत में इसके रोगियों की संख्या दूसरे देशों की तुलना में कहीं अधिक है। अकेले भारत में लगभग 6 करोड़ से भी अधिक लोगों को शुगर की बीमारी है।

  • शुगर के रोग में रोगी के शरीर में इंसुलिन प्राकृतिक रूप से नहीं बनता और शरीर में शुगर की मात्रा अधिक हो जाती हैं। जिसको नियंत्रण में रखने के लिए रोगी को इंसुलिन के टिके लगाने पड़ते है या इसको नियंत्रण में रखने के लिए दवाई का सेवन करना पड़ता है।
  • लेकिन क्या आप जानते है की आयुर्वेद में बहुत सारे ऐसे घरेलु उपाय है जिनको अपनाकर आप अपनी शुगर को जड़ से खत्म भी कर सकते है। वैसे तो बहुत सारे घरेलु उपाय होते है लेकिन आज हम बात करने जा रहे है की कैसे हम आम के दो पत्तों से अपनी शुगर को जड़ से खत्म कर सकते है। जी हाँ आपने बिल्कुल सही सुना आम के पत्तो के सेवन से हम शुगर को जड़ से खत्म कर सकते है। इसके लिए आपको इसका उपयोग एक दवाई की तरह करना होगा इसको बनाने के लिए जो आवश्यक सामग्री चाहिए वह कुछ इस प्रकार हैं। आपको आम की पत्तियाँ चाहिए ताज़ी या सुखी हुई। 

इन पत्तियों की औषिधि तैयार करने की दो प्रयोग विधि है आपको जो सुगम लगे उसे अपनाये।

औषिधि बनाने की विधि और सेवन करने का तारिका :

  1. प्रयोग विधि – १ : आप आम की ताजी पत्तियों को तोड़ कर धुप में छिपा ले और सूखने पर इनको पीसकर इसका पाउडर बना लें आपका घरेलु उपाय बनकर तैयार हैं। शुगर को जड़ से खत्म करने के लिए सुबह खाली पेट एक चम्मच इस पाउडर का सेवन पानी के साथ करें। ऐसा करने से आपका शुगर बहुत ही जल्दी समाप्त हो जाता है।
  2. प्रयोग विधि – २ : अगर आप किसी कारण पाउडर का सेवन नहीं कर सकते तो आप आम की ताजा पत्तियों को रात में एक गिलास पानी में भिगोकर रखदे। सुबह उठकर इसको अच्छे से उबाल कर इसको छानकर इसका सेवन सुबह खाली पेट करें। ऐसा करने से तेजी से शुगर नियंत्रण में हो जाता है और कुछ ही दिनों में आपका शुगर बिल्कुल खत्म हो जाता हैं।

अगर कोई भी शुगर का रोगी इन दोनों उपाय में से किसी भी एक को अपनाता है तो बहुत ही जल्द वह अपने शुगर से छुटकारा पा सकता है।

loading...
Share:

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!