fbpx

हार्ट अटैक से बचा सकता है अनार का छिलका, जाने इसके और भी 7 ज़बरदस्त फायदे

अनार के फायदे तो आप जानते ही होंगे जो हमने All Ayurvedic के माध्यम से पहले ही बता दिए है। लेकिन क्या आपको पता है इसका छिलका भी बहुत फायदेमंद हैं। तो अनार खाने के बाद उसका छिलका फेंके नहीं, इस तरह इसका इस्तेमाल करने से होते है ये 7 ज़बरदस्त फायदे।

  1. मुंहासे : अनार के छिलकों में भी एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो त्वचा को मुंहासों व संक्रमण से दूर रखने में मदद करते हैं। इसके छिलके को सुखाकर तवे पर भून लें। ठंडा होने पर मिक्सर में पीसें और पैक की तरह चेहरे पर लगाएं, इससे मुंहासे दूर होंगे।
  2.  त्वचा पर झुर्रियां : अनार के छिलके त्वचा में कोलाजन के नुकसान से बचाते हैं जिससे त्वचा पर झुर्रियां जल्दी नहीं पड़ती हैं। छिलके को सुखाकर पाउडर बनाएं और दूध व गुलाब जल में मिलाकर लगाएं।
  3. पीएच बैलेंस : त्वचा के पीएच बैलेंस को बनाए रखने व नमीं पहुंचाने के लिहाज से यह फायदेमंद है। अनार के छिलकों का पाउडर बनाकर दही में मिलाएं और 10 मिनट तक पैक की तरह चेहरे पर लगाएं और साधारण पानी से साफ करें।
  4. बाल झड़ने और रूसी जैसी समस्या : अनार के छिलकों का पाउडर तेल में मिलाकर सिर पर लगाने से बाल झड़ने और रूसी जैसी समस्याओं से निजात देता है। शैंपू से दो घंटे पहले इससे सिर की मसाज करें।
  5. टॉन्सिल के दर्द व गले में खराश : गला खराब होने पर भी इससे आराम मिलता है। छिलकों के पाउडर को पानी में उबाल लें और इससे गरारे करें। टॉन्सिल के दर्द व गले में खराश में आराम होगा।
  6. ह्रदय, कोलेस्ट्रॉल व तनाव : अनार के छिलकों में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स कोलेस्ट्रॉल व तनाव कम करते हैं जिससे दिल के रोगों का रिस्क कम होता है। छिलके के एक चम्मच पाउडर को एक गिलास गुनगुने पानी में मिलाकर पीने से दिल के मरीजों को आराम मिलता है।
  7. मुंह और दांतों से संबंधित समस्याएं : मुंह के छाले, सांसों की दुर्गंध और जिंजिवाइटिस जैसे रोगों के उपचार में इसका सेवन फायदेमंद है। छिलकों को सुखाकर पाउडर बनाएं और एक गिलास पानी में एक चम्मच पाउडर मिलाकर दिन में कम से कम दो बार गरारे करें। इससे मुंह और दांतों से संबंधित समस्याएं दूर रहेंगी। 
loading...
Share:

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!