fbpx

सिर्फ 5 मिनट तक कान के इस बिंदु को दबाने से चाहे कैसी भी शरीर की अकड़न हो ठीक हो जायेगी

➡ अकड़न : 

  • बहुत बार हम अनुभव करते हैं कि हमारी मांसपेशियों में जकड़न आ गई है और शरीर को हिलाएं-डुलाएं तो हमारी मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द शुरू हो जाता है। बदन दर्द (बॉडी पाईं) की प्राब्लम को नॉर्मली लोग इग्नोर ही कर देते है क्योंकि इसको सभी नॉर्मल बीमारी मानते है। शरीर में अकड़न होने के कई कारण हो सकते हैं। पिट्युटरी, पीनियल ग्रंथि अथवा मस्तिष्क का कोई रोग भी अकड़न का कारण बन सकता है। इसके अलावा भी कुछ अन्य कारण है आइये जाने इसके बारे में। www.allayurvedic.org

➡ अकड़न के कारण :

  1. ऑफिस या घरेलु काम : कभी-कभी ऑफिस या घर में काम की अधिकता के कारण भी लगतार कुर्सी पर बैठने या झुककर काम करने से शरीर में अकड़न का कारण बन सकती है।
  2. अधिक व्यायाम : क्षमता से अधिक व्यायाम करने से मांसपेशियां दर्द करने लगती हैं। इससे बचने के लिए व्यायाम शुरू करने से पूर्व हल्की वार्मअप एक्सरसाइज़ करनी चाहिए और व्यायाम समाप्त कर लेने के बाद हल्की एक्सरसाइज़ करनी चाहिए। व्यायाम तीव्र गति से नहीं करनी चाहिए। नियमित व्यायाम से दर्द और जकड़न दूर हो जाएगी।
  3. ठंडा मौसम : कई बार ठंडे मौसम से भी मांसपेशियों में दर्द और खिंचाव होता है। ऐसे में मांसपेशियों की हल्की मालिश, मांसपेशियों में खिंचाव वाली हलकी एक्सरसाइज़ और गर्म कपड़े पहनना शरीर को आराम देता है। www.allayurvedic.org
  4. खिंचाव : कई बार शरीर की किसी एक मांसपेशी में खिंचाव हो जाता है और जिससे काफी दर्द होने लगता है। अधिकतर यह हमारे पैर या टांग की मांसपेशियों में होती है। इसके लिए ठंडे वातावरण से दूर रहें, पौष्टिक भोजन और उचित मात्रा में पानी पिए। भारी व्यायाम न करें। मल्टी विटामिन व खनिज और फिश ऑयल का सेवन करे।
  5. गलत शारीरिक स्थिति : कई बार उठने बैठने के गलत ढंग से भी मांसपेशियों में दर्द होने लगता है। ऐसे में यौग बहुत लाभप्रद होता हैं। स्ट्रेचिंग और शवासन करके भी लाभ उठा सकता है।

➡ अकड़न दूर करने का चमत्कारी उपाय :

  • अकड़न के रोग में सोने, चांदी या तांबे के बर्तन में रखा पानी पीना चाहिए और अंत:स्रावी ग्रन्थियों का उपचार कराना चाहिए। अकड़न होने पर कानों की ललनियों पर जो ऊपर तथा नीचे फोटो में दिखाया गया है उस बिंदु पर हल्का सा दबाव देने से आराम मिलता है। दबाव देने के लिए अपनी ऊँगली को 5-8 सेकंड तक कान के ललनियो के बताये गए बिंदु पर दबाव डाले और छोड़ दे यह प्रक्रिया कम से कम 5-10 मिनट तक करे। कैसी भी अकडन हो ठीक हो जायेगी
प्रतिबिम्ब बिन्दु पर दबाव डालकर एक्यूप्रेशर चिकित्सा द्वारा इलाज करने का चित्र

➡ अकड़न को दूर करने अन्य घरेलु उपाय :

  1. अखरोठ के तेल की मालिश से पैरों की अकड़न कम हो जाती है।
  2. अडूसे के फलों और फूल को तेल में पकाकर छान लें। इस तेल से पैरों की मालिश करे अकड़न कम हो जाएगी है।
  3. अकड़न दूर करने के लिए गर्म सरसों के तेल की मालिश करे।
  4. अकड़ दूर करने के लिए गर्म पानी का सेक आराम पहुचाएगा। बोतल में गरम पानी दाल कर सेक करे।
  5. अकड़न की समस्या से तुरंत आराम पाने के लिए अजवायन और लहसुन को सरसों के तेल में डाल कर गर्म करें फिर इससे मसाज करे।

विनम्र अपील : प्रिय दोस्तों यदि आपको ये पोस्ट अच्छा लगा हो या आप आयुर्वेद को इन्टरनेट पर पोपुलर बनाना चाहते हो तो इसे नीचे दिए बटनों द्वारा Like और Share जरुर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इस पोस्ट को पढ़ सकें हो सकता है आपके किसी मित्र या किसी रिश्तेदार को इसकी जरुरत हो और यदि किसी को इस उपचार से मदद मिलती है तो आप को धन्यवाद जरुर देगा।

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!