fbpx

खाना खा रहे है पर शरीर को नहीं लग रहा? तो आपको ये उपाय अपनाने चाहिए

आज भी लोग इसे कई तरह की बीमारियों को दूर करने के लिए इसे दवा के रूप में लेते हैं। यह दवा बीमारियों को दूर करने में लाभकारी तो है ही, साथ ही वजन बढ़ाने में भी कारगर है। विभिन्न रोगों के उपचार में मददगार अश्वगंधा एक बहुत ही प्रसिद्ध औषधि है। नियमित रूप से इसका सेवन शरीर को मजबूत बनाता है और पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है। इसके अलावा यह तनाव को भी कम करता है।

  • किरात :-स्वाद में कड़वी किरात वजन बढाने के लिए बहुत ही अच्छी औषधि है। इसका सेवन करने से भूख बढती है और मुंह में लार भी निर्मित होता है। इससे पेट की समस्या जैसे- अपच या अन्य विकार समाप्त होते हैं।
  • कैमोमाइल :-कैमोमाइल को पाचन के लिए एक उपचार के तौर पर देखा जाता है। इस औषधि के सेवन से गैस और अपच तथा भूख न लगने की समस्या दूर होती है। आप कैमोमाइल से बनी चाय को उपयोग में ला सकते हैं
  • अदरक:-भूख न लगने की समस्या से आप पीड़ित हैं, तो आपको अदरक खाना चाहिए। यह पेट को एकदम दुरुस्त रखती है और रक्त संचार, भूख ना लगना, अपच, पेट फूलना, मितली में भी बहुत कारगर है।
  • सिंहपर्णी की जड़ें:-सिंहपर्णी की जड़ें खाने में तो है कड़वी लेकिन वजन को बढ़ाने में बहुत ही असरदार है। सिंहपर्णी की जड़ों से बना शोरबा  पेट और आंतों को बेहतर बनाता है और भूख को उत्तेजित करता है। इसमें पोटेशियम, लोहा, जस्ता, विटामिन सी, डी, ए और बी आदि पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं।
  • च्यवनप्राश:- सर्दियों में खाया जाने वाला च्यवनप्राश शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद औषधि है और आसानी से उपलब्ध है। दूध या जूस के साथ लेने पर च्यवनप्राश शरीर को मजबूती प्रदान करता है।
  • सतवारी कल्प:- सतवारी कल्प मोटापा बढ़ाने में मददगार है तथा इससे आँखों की रोशनी भी बढती है।
  • यष्टिमधु :- शरीर को पर्याप्त मात्र में पोषक तत्व देता है यष्टिमधु। यह एक बहुत ही उपयोगी औषधि है और लगभग हर उम्र के लोग इसे खा सकते हैं। इसे हम मुलहठी या मुलेठी के नाम से भी जानते है। यह एक झाड़ीनुमा पौधा होता है। 

विनम्र अपील : प्रिय दोस्तों यदि आपको ये पोस्ट अच्छा लगा हो या आप आयुर्वेद को इन्टरनेट पर पोपुलर बनाना चाहते हो तो इसे नीचे दिए बटनों द्वारा Like और Share जरुर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इस पोस्ट को पढ़ सकें हो सकता है आपके किसी मित्र या किसी रिश्तेदार को इसकी जरुरत हो और यदि किसी को इस उपचार से मदद मिलती है तो आप को धन्यवाद जरुर देगा।

loading...
Share:

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!