fbpx

आम की पत्तियाँ इन 10 गंभीर रोगों की औषिधि है, जाने इसके बारे में और शेयर करे

  • गर्मियों में सबसे ज्यादा मिलने वाला और खाया जाने वाला फल आम, स्वाद में बेहद स्वादिष्ट होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आम की पत्तियां भी कोई कम गुणकारी नहीं होतीं।
  • आम की पत्तियों में थेराप्यूटिक और अन्य मेडिकल प्रॉपर्टी होती हैं। इसके अलावा इसमें अच्छी खासी मात्रा में विटामिन सी, बी और ए भी पाया जाता है। www.allayurvedic.org
  • जब आप की पत्तियां ताजी, छोटी और लाल तथा बैंगनी रंग लिये हुए होती हैं, तभी उन्हें तोड़ कर प्रयोग किया जा सकता है। बड़ी और पुरानी होने पर यह अपना असर नहीं दिखा पाती।
  • आम की पत्तियां एक ऐसा खज़ाना हैं, जो आपको फ्री में ही मिल जाएगा इसलिये इसे अच्छी ढंग से प्रयोग करें। आम की पत्तियां साल भर मौजूद रहती हैं इसलिये आपको बीमारी दूर करने के लिये किसी खास मौसम का इंतजार करने की जरुरत नहीं है।
  • इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटीमाइक्रोबियल प्रॉपर्टी होने के नाते यह लगभग हर बीमारी का खात्मा कर सकती है।
  1. मधुमेह से बचाए : आम की नाजुक और ताजा पत्तियों की मदद से आप मधुमेह को भी कंट्रोल कर सकते हैं। यह ब्लड शुगर को कंट्रोल कर के आपके हेल्थ को ठीक रखती है। इसमें मौजूद हाइपोग्लाइसेमिक प्रभाव से ब्लड शुगर लो हो जाता है।
  2. दमा से बचाए : यह सांस की बीमारी को भी कंट्रोल करती है। यह चाइनीज़ मेडिसिन में काफी ज्यादा प्रयोग की जाती हैं। आप आम की पत्तियों को पानी में उबाल कर बनाया गया काढा पियें। इसमें थोड़ी सी शहद भी मिक्स कर सकते हैं। www.allayurvedic.org
  3. ब्लड़ प्रेशर लो करने में मददगार : इसमें हाइपोटेंसिव प्रॉपर्टी होती है जिसके चलते यह ब्लड प्रेशर को लो करने में सहायक होती है। यह खून की नाडियों को मजबूती देती है और खून के थक्कों को जमने से रोकती भी है।
  4. गॉल ब्लैडर और किडनी स्टोन से बचाए : रोजाना आम की पत्तियों के पावडर से बना घोल पीने से किडनी के स्टोन दूर करने में मदद मिलती है। आम की पत्तियों को छाया में सुखा कर पावडर बनाना चाहिये।
  5. पेचिश का इलाज : यह खून आने वाली पेचिश का भी इलाज करती है। आम की पत्तियों को सुखा कर पावडर बनाएं और फिर इसे दिन में दो बार पानी के साथ खाएं। इससे आराम मिलेगा।
  6. कानों का दर्द दूर भगाए : आम की पत्तियों का जूस निकाल कर कानों में डालिये, इससे दर्द बंद हो जाएगा। जूस को प्रयोग करने से पहले हल्का गरम करना ना भूलें।
  7. हिचकी और गले की समस्या से राहत : अगर आपको हिचकी आ रही है या गले में कोई परेशानी है तो थोड़ी सी मुलायम आम की पत्तियों को जला लें और फिर उसका धुंआ सांस के दृारा अंदर खींचे।
  8. पेट के लिये रामबाण : थोड़ी सी आम की पत्तियों को गरम पानी में डालें, बर्तन को ढंक दें और रातभर के लिये इसे ऐसे ही छोड़ दें। दूसरे दिन पानी को छान कर खाली पेट पी जाएं। इसे नियमित पीने से पेट की सारी गंदगी बाहर निकल जाती है और पेट का कोई रोग नहीं होता। www.allayurvedic.org
  • आम की पत्तियों का कैसे करें प्रयोग : आप चाहें तो छोटी, नाजुक पत्तियों को तोड़ कर मुंह में डाल कर चबा भी सकते हैं। अगर इसका पेय बनाना हो तो पत्तियों को तोड़ कर हल्के गुनगुने पानी में डाल कर बर्तन को ढंक दें और सुबह पानी छान कर पी जाएं। अगर इसका पावडर बनाना हो, तो नाजुक पत्तियों को तोड़ कर धो कर छाया में सुखा लें और फिर सूखने के बाद इसका पावडर बना कर सेवन करें।
loading...
Share:

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!