fbpx

सूजी (रवा) खाने के इन बेहतरीन फ़ायदों से आप अभी तक है अनजान, जरूर पढ़े.!!!

सूजी जिसे हम रवा भी कहते हैं। सूजी का प्रयोग हलवे, इडली या अन्य व्यंजनों को बनाने के लिये प्रयोग किया जाता है। क्या आपने कभी सोचा है कि इसको खाने से भी हमारे शरीर को काफी सारे स्वास्थ्य लाभ पहुंच सकते हैं? 

अगर आप पास्ता, पिज्जा या ब्रेड को बनाने के लिये घर पर मैदे का प्रयोग करती हैं तो उसकी जगह पर सूजी का प्रयोग करना फायदेमंद हो सकता है। इसमें ना तो कोलेस्ट्रॉल होता है और ना ही ट्रांस फैट। इसमें ढेर सारी मात्रा में प्रोटीन होता है। वे लोग जिन्हें मधुमेह है या फिर वजन घटाने के लिये डायटिंग पर हैं, उनके लिये इसे खाना फायदेमंद हो सकता है 

आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते हैं कि सूजी आपकी सेहत के लिये कैसे अच्छी साबित हो सकती है। इने अपने आहार में नियमित रूप से शामिल करें

➡ जानें इसके स्वास्थ्य लाभों के बारे में :

  • मोटापा जब खाना धीरे धीरे हजम होगा तो, जल्दी भूख नहीं लगेगी। इसमें ढेर सारा फाइबर भी होता है जिस कारण से यह धीरे हजम होती है तो यह आपके लिये अच्छी है।
  • एनर्जी बढाए सूजी में कार्बोहाइड्रेट ज्यादा होने की वजह से शरीर में एनर्जी बढ़ती है। इसे सुबह ब्रेकफास्ट में खाने से दिन भर शरीर में एनर्जी रहेगी और आप हमेशा एक्टिव रहेंगे। www.allayurvedic.org
  • बॉडी के लिए संतुलित आहार सूजी में ढेर सारा जरुरी पोषण होता है, जैसे- फाइबर, विटामिन बी कॉम्पलेक्स और विटामिन ई आदि। साथ ही इसमें फैट, कोलेस्ट्रॉल और सोडियम भी नहीं होता। साथ ही इसमें ढेर सारे मिनरल्स भी होते हैं। इसलिये यह एक संतुलित आहार है।
  • शरीर की कार्य क्षमता बढाए आवश्यक विटामिन, खनिज और अन्य पोषक तत्वों के कारण, सूजी शरीर के कई कार्यों को बढ़ावा देती है। यह दिल और गुर्दे की कार्य क्षमता को बढाती है। साथ ही यह मासपेशियों को सुचारू रूप से कार्य करने में मदद भी करती है। यह हड्डियों, तंत्रिका और मासपेशी को स्वस्थ रखने का कार्य करती है।
  • दिल की दोस्त इसे खाने से शरीर में रक्त संचार सुचारू रूप से काम करता है और हार्ट अटैक का खतरा कम होता है।
  • हाई कोलेस्ट्रॉल से बचाए जैसा पहले बताया गया है कि सूजी में लो फैट और कोलेस्ट्रॉल बिल्कुल भी नहीं होता इसलिये यह उन लोगों के लिये अच्छी है जिनका कोलेस्ट्रॉल बढ जाता है। इसमें ना तो trans fatty acids होता है और ना ही saturated fat हेाता है।
loading...
Share:

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!