fbpx

कपूर से पूजा करने का ऐसे ही धार्मिक महत्त्व नही है असल में इसका काम सेहत को बनाना है

★ कपूर से पूजा करने का ऐसे ही धार्मिक महत्त्व नही है असल में इसका काम सेहत को बनाना है ★ 

📱 Share On Whatsapp : Click here 📱

▶ क्या आप जानते है? कपूर का उपयोग पूजा ही नहीं सेहत के लिए भी होता है, कपूर का इस्तेमाल पूजा-पाठ के लिए किया जाता है। लेकिन स्वास्थ्य की दृष्टि से भी यह बहुत फायदेमंद है। कपूर का प्रयोग कई प्रकार की बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता है। कपूर त्वचा और मांसपेशियों और ऊतकों में सूजन कम करता है। पुरानी जोड़ों और दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए कपूर उपयोगी औषधि है। कपूर का तेल बहुत फायदेमंद है। कपूर का इस्तेमाल कई दवाओं में भी किया जाता है। कपूर से कई प्रकार के मरहम बनाये जाते हैं। आइए हम आपको कपूर से होने वाले फायदों के बारे में बताते हैं। www.allayurvedic.org

➡ कपूर के 8 फायदे :
1. कपूर, आजवायन और पिपरमेंट को बराबर मात्रा में लीजिए, इनको एक शीशी में डालकर मिला लीजिए और उस शीशी को धूप में रख दीजिए। बीच-बीच में इस घोल को हिलाते रहिए। इसकी चार से आठ बूंदें बताशे में या चीनी के शर्बत में मिलाकर दस्त के रोगी को दीजिए। इससे दस्त में आराम मिलेगा।
2. पेट दर्द और बेचैनी के लिए भी कपूर बहुत फायदेमंद है। पेट दर्द होने पर कपूर और अजवायन और पिपरमेंट को शर्बत में मिलाकर पीने से पेट दर्द समाप्त हो जाता है।
3. त्वचा के लिए कपूर बहुत फायदेमंद है। कपूर कोशिकाओं को मजबूत बनाता है। इससे त्वचा में निखार आता है।
4. मांसपेशियों के दर्द को कपूर से दूर किया जा सकता है। मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द होने पर कपूर के तेल से मालिश कीजिए। आराम मिलेगा और दर्द समाप्त हो जाएगा।
www.allayurvedic.org
5. खुजली आने पर कपूर का प्रयोग कीजिए। खुजली वाली त्वचा पर लगाइये खुजली होना बंद हो जाता है।
6. गठिया के मरीजों के लिए भी कपूर फायदेमंद है। गठिया होने पर कपूर के तेल की मालिश करने पर आराम मिलता है।
7. जलने पर कपूर या कपूर का तेल लगाइए। जले पर कपूर लगाने से जलन खत्म होती है और राहत मिलती है।
8. कपूर बहुत खुशबूदार होता है। इसकी खुशबू और रासायनिक भिन्नता किसी देश में पैदा होने वाले कपूर के वृक्ष पर निर्भर करती है। कपूर के धुएं 🔥 से आसपास का वातावरण अच्छा होता है। यही कारण है की हिन्दू धर्म में पूजा के वक़्त कपूर का उपयोग किया जाता है जो इसी वैज्ञानिक तर्क के आधार पर सबका कल्याण हो सके और निरोगी रहे।

Loading...
Share:

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!