fbpx

पीपल का पत्ता : हार्ट ब्लोकेज को रोके

पीपल का पत्ता : हार्ट ब्लोकेज को रोके

पीपल के पत्तो की रचना हार्ट की आकृति जैसी होने से ये दिल की सारी बीमारियाँ ठीक करता है|
कई लोगो की परेशानी है उनके रक्त-शिराओ में ब्लोकेज है सबसे पहले जान ले कि अदरक का सेवन ज्यादा करे क्युकि अदरक आपके खून को पतला रखता है और पीपल आपको ब्लाकेज से बचाता है –
पीपल के 15 से 20 पत्ते लें जो कोमल गुलाबी कोंपलें न हों, बल्कि पत्ते हरे, कोमल व भली प्रकार विकसित हों। प्रत्येक का ऊपर व नीचे का कुछ भाग कैंची से काटकर अलग कर दें। पत्ते का बीच का भाग पानी से साफ कर लें। इन्हें एक गिलास पानी में धीमी आँच पर पकने दें। जब पानी उबलकर एक तिहाई रह जाए तब ठंडा होने पर साफ कपड़े से छान लें और उसे ठंडे स्थान पर रख दें, अब ये दवा तैयार है-
इस काढ़े की तीन खुराकें बनाकर प्रत्येक तीन घंटे बाद प्रातः लें। हार्ट अटैक के बाद कुछ समय हो जाने के पश्चात लगातार पंद्रह दिन तक इसे लेने से हृदय पुनः स्वस्थ हो जाता है और फिर दिल का दौरा पड़ने की संभावना नहीं रहती। दिल के रोगी इस नुस्खे का एक बार प्रयोग अवश्य करें। इसकी खुराक लेने से पहले पेट एक दम खाली नहीं होना चाहिए, बल्कि सुपाच्य व हल्का नाश्ता करने के बाद ही लें-
परहेज :-
प्रयोगकाल में तली चीजें, चावल आदि न लें। मांस, मछली, अंडे, शराब, धूम्रपान का प्रयोग बंद कर दें। नमक, चिकनाई का प्रयोग बंद कर दें।अनार, पपीता, आंवला, बथुआ, लहसुन, मैथी दाना, सेब का मुरब्बा, मौसंबी, रात में भिगोए काले चने, किशमिश, गुग्गुल, दही, छाछ आदि लें।

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!