Categories

This Website is protected by DMCA.com

हाथ-पैर सुन्न होने का उपाय

हाथ- पैर में सुन्नता | झुनझुनाहट | लक्षण

  • अक्सर कई लोगों को हाथों और पैरों में झुनझुनाहट के कारण सुन्न होने की परेशानियां होती है । झनझनाहट और सुन्न होने की बीमारी बहुत ही खतरनाक है इसे नजर अंदाज नहीं करना चाहिए । बल्कि तुरंत डॉक्टर के परामर्श लेकर इसका इलाज चालू कर देना अच्छा है। All Ayurvedic के आज के इस आर्टिकल में इसी विषय पर चर्चा की जा रही है इसे अंत तक अवश्य पढ़ें।
  • एक जैसी स्थिति में बैठे रहने से हाथ पैर पूरी तरह सुन्न पड़ जाते है। ऐसा होने पर हम किसी भी चीज को छुते है तो हमे उसका अहसास भी नही होता। ऐसी अवस्था में हाथ-पैरों में सुईयां चुभने जैसा गहरा अहसास होता हैं या झनझनाहट सी महसूस होती हैं। 
  • इसके साथ ही यह भी हो सकता है कि आपको प्रभावित स्थान पर दर्द, ऐठन या कमजोरी बहुत ज्यादा महसूस होती हो। ऐसे में हम आपके लिए कुछ घरेलू उपाय लेकर आये है जिनके माध्यम से आप इस समस्या से पूरी तरह छुटकारा पा सकते है।

यह भी पढ़े : सिर्फ 30 दिनों में वजन बढ़ाने की आयुर्वेदिक औषधि

हाथों और पैरों में झनझनाहट होने के अन्य  कारण : 

  1. तंत्रिका तंत्र पर दबाव पड़ने के कारण या तंत्रिका तंत्र पर चोट लगने के कारण हाथो पैरो में झनझनाहट होने लगती है। 
  2. शरीर में विटामिन बी कॉम्प्लेक्स और बी-12, मैग्नीशियम, पोटेशियम आदि की कमी भी आपके हाथो और पैरों में झनझनाहट का कारण बनती है। 
  3. जब कोशिकाओं के कार्य में कुछ असामनता हो जाती है तब भी आपको झनझनाहट महसूस हो सकती है। 
  4. रक्त वाहिकाओं के दबाव के कारण या शरीर के किसी हिस्से में रक्त का प्रवाह सुचारु रूप से न होने के कारण। 
  5. कुछ खाद्य पदार्थ या दवाइया भी ऐसी होती है जिनके सेवन से आपको ये परेशानी होने लगती है। 
  6. मधुमेह के रोगियों को ये समस्या ज्यादा होती है। बहुत अधिक शराब का सेवन, धूम्रपान आदि करने पर भी आपको इस परेशानी का सामना करना पड़ता है। 
  7. ठन्डे पानी में काफी देर रहना, या ठंडी चीज को काफी देर तक छूने के कारण भी आपको झनझनाहट महसूस हो सकती है।

ध्यान रखने योग्य बाते | इन चीज़ों का दैनिक जीवन मे शामिल करें 

  • हाथों और पैरों में झनझनाहट और सुन्न होने की परेशानियां कई कारणों से होती है। यह परेशानियां शरीर में पोषक तत्वों की कमी का संकेत है। इसलिए खाने में ऐसे फलों और सब्जियों का सेवन करना चाहिए जिससे पोषक तत्व की कमी दूर हो जाए और इस बीमारी से राहत मिले। 
  • अपने प्रतिदिन के खाने में मैग्नीशियम से भरपूर सब्जियों, फलों का सेवन करना बहुत फायदा करेगा। इसके लिए हरी पत्तेदार सब्जियां, सूखे मेवे, अलसी के बीज, काजू के बीज, जौ की दलिया, पनीर, सोयाबीन, चॉकलेट इत्यादि चीजों का सेवन बहुत ही फायदा देगा। अपनी प्रतिदिन के दिनचर्या में एक घंटा व्यायाम शामिल करें इससे हाथों पैरों में होने वाली झनझनाहट से राहत मिलेगी।

झुनझुनाहट और सुन्न होने के 4 आसान घरेलू उपाय 

  1. हल्दी : हल्दी में मौजूद एंटी इंफ्लेमेंटरी गुण पर्याप्त मात्रा में मौजूद होते है, साथ ही इसमें एक तत्व पाया जाता है जिसे कुरकुर्मीन कहते है, इसके कारण आपके पुरे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने में माद्दा मिलती है,इसके इस्तेमाल के लिए आप एक गिलास दूध में चुटकी भर हल्दी डालकर अच्छे से पकाएं, उसके बाद ठंडा करके इस दूध का सेवन करें साथ ही हल्दी और पानी का पेस्ट बनाकर प्रभावित हिस्से पर लगाएं, आपको झनझनाहट से राहत पाने में मदद मिलेगी।
  2. आंवला और अश्वगंधा : यदि आप नियमित रूप से चुटकी भर अश्वगंधा के साथ आधा चम्मच आंवला चूर्ण मिलाकर उसका सेवन करते है, तो आपको इस समस्या से बचने में मदद मिलती है, साथ ही हाथों पैरों के दर्द से भी राहत मिलती है।
  3. लहसुन, जीरा, लौंग और इलायची का चूर्ण : लहसुन, जीरा, लौंग, इलायची को पीस कर एक बारीक चूर्ण तैयार करें, उसके बाद सुबह शाम इस चूर्ण का सेवन पानी के साथ करें, आपको इस समस्या से निजात पाने में मदद मिलेगी।
  4. दालचीनी और शहद : दालचीनी का प्रयोग करने से भी आपको अपने हाथों और पैरों की झनझनाहट को दूर करने में मदद मिलती है, क्योंकि इसके सेवन से आपके शरीर में मैग्नीशियम, और पोटैशियम के तत्वों की कमी को पूरा करने में माद्दा मिलने के साथ आपके ब्लड सर्कुलेशन में भी मदद मिलती है, इससे बचने के लिए आपको एक गिलास में दालचीनी पाउडर को उबाल कर उसके गुनगुना रहने तक उसका सेवन करना चाहिए इसके अलावा आप दालचीनी पाउडर के साथ थोड़ा अदरक भी उबाल सकते है, और उसमे एक चम्मच शहद मिलाकर लेते हैं तो भी आपको फायदा होता है।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch