Categories

मुल्तानी मिट्टी में ये 2 चीज़े मिलाकर लगा लें, सप्ताह भर में ही सांवली त्वचा निखर जाएगा



  • जब हमारी त्वचा काफी रूखी और बेजान हो जाती है, इसमें दाग धब्बे और बड़े-बड़े पोर्स निकल आते हैं और त्वचा की निखार छिन जाती है और चेहरा सावला पड़ने लगता है। आज के इस पोस्ट में हम आपको मुल्तानी मिट्टी का एक ऐसा पेस्ट बनाना सिखाएंगे जिससे आपको इन सारी परेशानियों से छुटकारा मिल जाएगा और आपके चेहरे की रंगत में प्राकृतिक निखार आने लगेगा।
  • जैसा कि आप जानते है मुल्तानी मिट्टी एक ऐसा प्राकृतिक पदार्थ है जो त्वचा और बाल दोनों को स्वस्थ और सुंदर बनाये रखने में बहुत मदद करता है। मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग युगों से सौन्दर्य संबंधी उपचार के लिए किया जाता रहा है।
  • मुल्तानी मिट्टी प्रकृति का अनमोल वरदान है जो बाल और त्वचा संबंधी किसी भी समस्या से लड़ने में मदद करता है। मुल्तानी मिट्टी के लिए सबसे अच्छी बात यह होती है कि यह सस्ता होता है और आसानी से पाया जा सकता है। मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल भी आप बहुत ही सरल और सामान्य तरीके से अपने घर में कर सकते हैं।

सांवली त्वचा के लिए पेस्ट तैयार करने की विधि :

  • इस पेस्ट को तैयार करने के लिए सबसे पहले आपको एक कटोरी में मुल्तानी मिट्टी ले लेनी है फिर उसमें एक चम्मच बेसन और एक चम्मच चंदन पाउडर डाल देना है। ध्यान रहे कि चंदन पाउडर सफेद रंग का हो क्योंकि इस नुस्खे में मुल्तानी मिट्टी और चंदन पाउडर ही खास सामग्री है।
  • अब इसमें गुलाब जल मिलाकर अच्छी तरह से एक स्मूथ पेस्ट तैयार कर लें। अब आइए जानते हैं इसे लगाना कैसे हैं। इस पेस्ट को लगाने से पहले अपनी त्वचा को रुई में गुलाब जल लगा कर अच्छी तरह से साफ कर लें। अब इस पेस्ट को नीचे से ऊपर की तरफ लगाना शुरु कर दें।

उपयोग करने का तरीका और इसके फायदे :

  • इससे यह होगा कि आपकी त्वचा लटकेगी नहीं बल्कि टाइट रहेगी। ध्यान रहे कि इसे त्वचा पर लगाने के बाद आपको बोलना नहीं है। 15 से 20 मिनट तक यूं ही रहना है फिर इसे ठंडे पानी से धो लेना है। इस नुस्खे को आप सप्ताह में तीन बार आजमाएं, आपको कमाल का फर्क देखने को मिलेगा।

मुँहासों के लिए मुल्तानी मिट्टी :

  • प्रदूषण और अपनी त्वचा की देखभाल अच्छी तरह से न करने के कारण चेहरे पर मुँहासे निकलने लगते हैं। मुल्तानी मिट्टी और नीम का पेस्ट मुँहासों का निकलना कम करने में मदद करता है।

पेस्ट बनाने और लगाने की विधि :

  • एक कटोरी में एक छोटा चम्मच नीम का पावडर या पेस्ट ले, उसमें दो छोटा चम्मच मुल्तानी मिट्टी, ज़रूरत के अनुसार गुलाब जल, एक चुटकी कपूर, और चार-पाँच लौंग को पीसकर बनाया हुआ पावडर डालकर पैक को बना लें। चेहरे पर मुँहासो वाली जगह पर पैक को अच्छी तरह से लगाकर दस से पंद्रह मिनटों तक लगाकर रखें। सूखने के बाद पानी से धो लें।

झुर्रियों के लिए मुल्तानी मिट्टी :

  • जब आप युवा अवस्था से वयस्क अवस्था में कदम रखने लगते हैं आपकी त्वचा अपनी रौनक खोने लगती है। लेकिन मुल्तानी मिट्टी का पैक इस समस्या से जल्द राहत दिलाने में मददगार साबित होता है। 

पेस्ट बनाने और लगाने की विधि :

  • एक कटोरी में एक बड़ा चम्मच मुल्तानी मिट्टी के साथ समान मात्रा में दही लें और उसमें एक अंडा फोड़कर डालें। इस पैक को मुलायम बनाने के लिए अच्छी तरह से मिला लें। इस पैक को चेहरे पर लगाकर बीस मिनटों तक सूखने के लिए छोड़ दें और फिर गुनगुने गर्म पानी से धो लें। पैक को धोने के बाद आपको अलग ही तरह का ताजगी महसूस होगा।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch