Categories

सिर्फ 1 हफ्ते खाली पेट पके पपीते खाने से जड़ से खत्म हो जाते है यह 3 रोग


  • पपीता केवल फल नहीं है यह एक दवाई भी है क्योंकि यह पेट से दिल तक स्वस्थ्य लाभ पहुंचता है। पपीता एक ऐसा फल है, जो कच्चा और पका हुआ दोनों ही रूप में खाया जाता है। सबसे अच्छी बात यह है पपीते में कई तरह के विटामिन मिलते हैं, नियमित रूप से खाने से शरीर में कभी विटामिन्स की कमी नहीं होती।
  • बीमार व्यक्ति के लिए भी यह बहुत फायदेमंद होता है। यह आसानी से अवशोषित होकर शारीर को काफी फायदा पहुचता है। पपीते में पपेन नामक पदार्थ पाया जाता है जो मांसाहार गलाने के काम आता है। भोजन पचाने में भी यह अत्यंत सहायक होता है। पपीता आसानी से हजम होने वाला फल है। पपीता भूख व शक्ति को बढ़ाता है। यह प्लीहा (तिल्ली), यकृत (लीवर) , पांडु (पीलिया) आदि रोग को समाप्त करता है। पेट के रोगों को दूर करने के लिए पपीते का सेवन करना लाभकारी होता है। पपीते के सेवन से पाचनतंत्र ठीक होता है।
  • पपीते में बड़ी मात्रा में विटामिन-ए होता है। इसलिए यह आंखों और त्वचा के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है। इससे आंखों की रोशनी तो अच्छी होती ही है, त्वचा भी स्वस्थ, स्वच्छ और चमकदार रहती है। पपीते में कैल्शियम भी खूब मिलता है। इसलिए यह हड्डियां मजबूत बनाता है। 
  • यह प्रोटीन को पचाने में सहायक होता है। पपीता फाइबर का अच्छा स्रोत है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी, कैंसर रोधी और हीलिंग प्रॉपर्टीज भी होती है। जिन लोगों को बार-बार सर्दी-खांसी होती रहती है, उनके लिए पपीते का नियमित सेवन काफी लाभकारी होता है। इससे इम्यून सिस्टम मज़बूत होता है।
  • आपने कई तरह के फलो का सेवन किया होगा। लेकिन बहुत कम बार ही पके पपीते का सेवन किया होगा। अक्सर ज्यादा फायदे वाली चीजो का सेवन लोग कम ही करते है। आज हम आपको पके पपीते के बारे में बताने जा रहे है। जिसके सेवन से शरीर को इतने फायदे मिलते है। जितना की दुनिया भर के किसी फल से नहीं मिलते। इसका सेवन नियमित रूप से करने से शरीर से कई रोग हमेशा के लिए जड़ से खत्म हो जाते है।

पके पपीते खाने से ये 3 रोग खत्म हो जाते है : 

  1. अगर आप अपने शरीर का वजन को कंट्रोल करना चाहते है। तो आपको रोजाना भोजल करने से पहले पके पपीते का सेवन जरुर करना चाहिए। इसके सेवन से शरीर में मेटाबोलिस्म बढ़ता है। जो शरीर के वजन को कंट्रोल करने में मदद करता है।
  2. पके पपीते में भरपूर मात्रा में विटामिन्स और मिनरल्स मौजूद होते है। जो दिमाग और आँखों के लिए बेहद फायदे मंद होते है। रोजाना खाली पेट पके पपीते का सेवन करने से सिर्फ 1 हफ्ते में आँखों की रौशनी और दिमाग तेज होने लगेगा।
  3. पपीता में एंजाइम और फाइबर मौजूद होता है। जिसका सेवन रोजाना करने से पेट संबंधी कई रोग जड़ से खत्म हो जाते है। क्यूंकि यह शरीर में पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है। जिससे शरीर कई रोगों से बचा रहता है।

ज्यादा पपीता सेवन के हानिकारक प्रभाव :
  • गर्भावस्था के दौरान कच्चा या पका पपीता नहीं खाना चाहिए। जिन स्त्रियों को मासिक-धर्म अधिक आता हो उन्हें भी पपीता नहीं खाना चाहिए। प्रमेह, कुष्ठ व अर्श (बवासीर) के रोगियों के लिए कच्चा पपीता हानिकारक होता है। पपीता के बीजो का सेवन करने से ग*र्भपात हो सकता है।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch