Categories

This Website is protected by DMCA.com

आरओ (RO) का पानी पीने से पहले एक बार यह जरूर पढ़ लें, वरना बुढ़ापे में पछताना पड़ेगा




  • जल ही जीवन है यह कहना गलत नहीं होगा। खाने के बिना इंसान कई कई दिनों तक ज़िंदा रह सकता है, लेकिन बिना पानी पिए शायद कुछ दिन भी नहीं। पानी सिर्फ प्यास बुझाने के ही काम नहीं आता बल्कि यह खाना बनाने, कपड़े धोने, नहाने, खेती-बाड़ीके काम भी आता है। सिर्फ पानी का होना ही काफी नहीं है बल्कि पानी का साफ़ होना भी बहुत जरूरी है। पानी में कई तरह के नुकसान पहुंचाने वाले बैक्टीरिया और अशुद्धियां होती हैं। यह उलटी, दस्त, टाइफाइड जैसी अन्य बिमारियों का कारण बन सकती हैं। गंदे पानी से नहाने से त्वचा के रोग भी हो सकते हैं।

पानी साफ़ है या नहीं ऐसे जाने

  • पानी में टी.डी.एस (TDS) की मात्रा का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। पानी में कई तरह के खनिज जैसे मैग्नीशियम, कैल्शियम, सोडियम आदि घुले आते हैं। पीने के पानी में टी.डी.स की मात्रा 500 मि.ग्राम प्रति लीटर से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। 100-150 का स्तर पीने के पानी के लिए सबसे बेहतरीन माना गया है।

पानी साफ़ करने के तरीके

  • पानी को साफ़ करने का सबसे आसान और पुराना तरीका है उसे छानना। ऐसा आप चलनी या किसी पतले कपड़े की मदद से कर सकते हैं। मगर ऐसा करने से पानी पूरी तरह से शुद्ध नहीं होता। पानी को शुद्ध करने का अन्य तरीका है उसे उबालना, कम से कम 15 मिनट पानी को उबालें। इससे पानी में मौजूद हानिकारक जाता है।

आरओ सिस्टम (RO SYSTEM) :

  • पिछले कुछ सालों से बाजार में पानी को साफ़ करने की तकनीक मौजूद है इस से पानी शुद्ध तो हो जाता है,लेकिन उसमे मौजूद जरूरी मिनरल्स भी नष्ट हो जाते हैं। ऐसे में आजकल ओआरपीएच तकनीक वाले आरओ विकसित किये गए हैं, जिसके इस्तेमाल पानी तो शुद्ध होता ही है साथ ही यह पानी की गुणवत्ता को भी कोई नुकसान नहीं पहुंचाते।

आरओ का पानी पीने के नुकसान :

  • क्या आप जानते हैं के बोतलबंद पानी पीने से या RO का फिल्टर किया हुआ पानी पीने से आपके शरीर को कितना भयंकर नुकसान हो सकता है इस पोस्ट में हम आपको यही बताने जा रहे हैं, के पेकिंग वाला बोतलबंद पानी पीने से शरीर को किस हद तक नुकसान हो सकता है यहां तक कि यह आपकी मौत का कारण भी बन सकता है नीचे दी गई पूरी पोस्ट पढ़ें और जनहित में दी गई इस जानकारी को अपने दोस्तों के बीच Facebook पर जरूर शेयर करें।



आरओ (RO) का पानी पीना सेहत के लिए नुकसानदायक (WHO) :

  • दोस्तों आज का दौर ऐसा है कि दुनिया दिखावे में मरी जा रही है. हम जब भी सफर में या कहीं भी घर से बाहर निकलते हैं अपने साथ अपने लिए पानी की व्यवस्था करके नहीं चलते सोचते हैं के मार्केट से पैकिंग वाला बढ़िया पानी खरीद लेंगे, जबकि पहले पुराने समय में ऐसा होता था. हम जब भी सफर में कहीं जाते थे तो अपने घर से ही अपने लिए पानी की व्यवस्था करके चलते थे लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि यह विभिन्न कंपनियों द्वारा बेचा जाने वाला बोतलबंद पानी आपके शरीर को कितना नुकसान कर सकता है और इस बात को वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन (WHO) ने अपनी एक रिपोर्ट में खुलासा भी कर दिया है के फ़िल्टर किया हुआ या आरओ का पानी आपके स्वास्थ्य के लिए की दृष्टि से बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है। क्योंकि यह RO सिस्टम पानी से आवश्यक खनिजो को भी फ़िल्टर कर देता है, यही वजह है की जो RO का पानी पीने वालों का बुढ़ापे में जोड़ो और घुटनो का दर्द होना लाज़मी है।
  • इतनी तेज धूप में हमें अगर ठंडा पानी पीने को मिल जाए तो मजा आ जाता है और अगर यह पानी RO से फिल्टर किया हुआ हो तब तो क्या कहने हम सोचते हैं कि आज तो तबीयत मस्त हो गई. शायद आपको इस पोस्ट में पढ़ कर ताज्जुब जरूर हो रहा होगा के RO से फिल्टर किया गया पानी सुरक्षित कैसे नहीं हो सकता? यह असंभव लगेगा जरूर लेकिन आप अंत इस पोस्ट को आप पढ़ लेंगे तो आपके समझ में पूरी बात आ जाएगी के इलेक्ट्रॉनिक मशीनों द्वारा फिल्टर किया गया पानी स्वास्थ्य की दृष्टि से बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है।

बोतलबंद पानी स्वास्थ के लिए सुरक्षित क्यों नहीं है ?

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन मतलब वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) WHO की रिपोर्ट के अनुसार पेकिंग वाला बोतलबंद पानी लगातार लंबे समय तक पीने से आपके स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है और इसके लगातार सेवन से आपको हृदय संबंधी विकार, थकान महसूस होना, मानसिक कमजोरी और मांसपेशियों में ऐठन या सिरदर्द जैसे कई रोग हो सकते हैं क्योंकि शोध से पता चला है कि जब आरो पानी फिल्टर करता है. तो वह इस पानी में से अच्छे व बुरे मिनरल्स हो पूरी तरह निकाल देता है क्योंकि उस मशीन को अच्छे या बुरे मिनरल्स की पहचान नहीं होती है और इस तरह का पानी पीने से आपको फायदे की जगह नुकसान पहुंचाता है. RO का इस्तेमाल वही करना चाहिए जहां टीडीएस की मात्रा बहुत ज्यादा हो ऐसे क्षेत्रों में आप आरओ की मशीन का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • जिनके घरों में RO की मशीन लगी रहती है वह लोग बड़ी शान के साथ बोलते हैं फलानि कंपनी का आरओ लगवाया है पर यह नहीं जानते के दिखावे के चक्कर में असल में हमने अपने बीमार बनने का सामान अपने घर में लगा दिया है. लंबे समय तक इसका उपयोग करना वास्तव में नुकसानदायक साबित हो सकता है इसलिए जहां तक संभव हो क्लोरीन का इस्तेमाल करें जिससे पानी में उपस्थित लाभदायक बैक्टीरिया नष्ट नहीं होते और इसकी तुलना में ये काफी सुरक्षित होता है।
  • आरओ का पानी फिल्टर करने में पानी में उपस्थित जरूरी कैल्शियम और मैग्नीशियम 90% से 99% तक नष्ट हो जाते हैं इस तरह का पानी पीने से आपके शरीर में नुकसान होने की संभावना काफी बढ़ जाती है, यहाँ आपकी जानकारी के लिए बता दें एशिया और यूरोप के कई देश आरओ पर पूर्ण रुप से प्रतिबंध लगा चुके हैं।

मित्रों अगर आपको इस पोस्ट में दी गई आरओ का पानी वाली जानकारी सही लगती है तो कृपया करके अपने Facebook पर अपने दोस्तों के बीच इसे जरूर शेयर कर दें, जिससे कि यह जानकारी और भी लोगों तक पहुंच जाए और वे इससे बचें।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch