Categories

खटमल को जड़ से खत्म कर देंगे ये 3 नुस्खे, आज ही आजमा कर देख लें


  • प्रिय पाठको, पिछले कई दिनों से बहुत से लोग यह सवाल कर रहे थे कि उन्हें खटमल (Bed Bug) से छुटकारा पाने के लिए कोई ऐसा घरेलू नुस्खा चाहिए जो इसे जड़ से खत्म कर दे आज के इस लेख में All Ayurvedic के माध्यम से आप इन्ही नुस्खे के बारे में जानने वाले हैं। खटमल एक छोटा सा जीव है जो खून पीकर जिन्दा रहता है। यही इसका भोजन या खुराक है। इसे इंसानो का खून पसंद होता है लेकिन ये जानवर या पक्षी के खून से भी काम चला लेता है।
  • इसका साइज  5 -7 mm होता है यानि लगभग सेब के बीज जितना । यह ओवल शेप का चपटा भूरे या लाल से रंग का जीव होता है। यह उड़ नहीं सकता , चलकर ही अपने शिकार तक पहुँचता है। जहाँ रक्त की खुराक मिलती रहती है उस जगह के आसपास ही खटमल पाए जाते हैं। वैसे तो ये रात के समय सक्रीय होते हैं लेकिन यदि भूखे हों तो दिन में भी काट सकते हैं। खटमल 5 से 10 दिन में एक बार खून पीते हैं। इस काम में इन्हे  4  से  12  मिनट का समय लगता हैं। अपने छुपने की जगह से शिकार तक पहुँचने के लिए ये 20 फुट दूर तक जा सकते हैं। इनके मुंह में चोंच जैसी दो ट्यूब होती है। एक ट्यूब से लार छोड़ते हैं। लार में एनिस्थिसिया जैसा गुण होता है जिससे वह जगह सुन्न हो जाती है। और ये आराम से दूसरी ट्यूब से खून पी लेते हैं। इसके बाद ये 5 -10 दिन के लिए अपने छुपने की जगह चले जाते है। वहां जाकर खाना पचाते है और अपना परिवार बढ़ाते है। भोजन किये बिना भी ये महीनों तक जीवित रह सकते हैं। ये इतने पतले और छोटे होते है कि इन्हे छुपने के लिए जगह आसानी से मिल जाती है।
  • इनसे इंसानो को किसी प्रकार की बीमारी होना या फैलना नहीं पाया गया है। खटमल 7°C से 45°C तक तापमान सहन कर सकते हैं। जिन परिस्थितियों में उन्हें खुराक देने वाले रह सकते है वहाँ ये भी रह सकते हैं। ये किसी भी सामान के साथ एक जगह से दूसरी जगह पहुँच कर अपना नया घर बना लेते हैं। मादा खटमल एक दिन में 1 से 3 अंडे दे सकती है। अपने पूरे जीवन में वह 200 से 500 अंडे दे सकती है।
  • खटमल के अंडे मोतिया सफ़ेद रंग के होते है। इन अंडों का साइज़ लगभग  1 .5  mm जितना होता है और ये चावल जैसे  दिखाई देते हैं। अंडे से निकले बच्चे कुछ समय तक पारदर्शी मटमैले सफ़ेद रंग के होते हैं।  अपने इस रंग के कारण मुश्किल से दिखाई देते हैं। खून पीकर ये बड़े होते जाते हैं। 21 दिन में ये पूर्ण रूप से वयस्क हो जाते हैं। उससे पहले चार पांच बार ये त्वचा यानि केंचुली उतारते हैं।

खटमल के काटने (Bed Bug Bite) पर क्या होता है :

  •  खटमल के काटने का अलग लोगों पर अलग तरह का असर हो सकता है। अधिकतर लोगों को खटमल के काटने का ना तो पता चलता है और ना किसी प्रकार का निशान बनता है। कुछ लोगों के शरीर पर मच्छर काटने जैसा छोटा लाल निशान बन जाता है।
  • किसी के बड़ा लाल निशान बन जाता । कई लोग ऐसे निशान को पिस्सू  या मच्छर के काटे का निशान समझ लेते हैं। बहुत कम लोगों को इससे एलर्जी भी हो सकती है। यदि एलर्जी होती हो तो काटे गए स्थान को साबुन और पानी से धो लेना चाहिए। काटे गये स्थान को खुजलाना नहीं चाहिए अन्यथा इन्फेक्शन हो सकता है सूजन आ सकती है पीला या सफ़ेद द्रव का रिसाव हो सकता है। इलाज के लिए चिकित्सक से संपर्क कर लेना चाहिए।

खटमल (Bed Bug) होने का पता कैसे चलता है

  • काटने के निशान खटमल के ही हो यह जरुरी नहीं है , ऐसा निशान किसी दूसरे मच्छर या कीड़े के काटने से भी बन सकता है। यानि शरीर पर निशान से खटमल के मौजूद होने का अंदाजा लगाना मुश्किल होता है।कुछ विशेष बातों से खटमल होने का संकेत मिलता है जो इस प्रकार हैं।
  • बिस्तर या चादर पर पर लाल रंग धब्बे नजर आते हैं जो की खटमल के कुचले जाने के कारण बन जाते हैं। इसका मतलब खटमल (Bed bugs) हैं। गहरे रंग का छोटा धब्बा जो खटमल का मल होता है और दबाने पर रंग छोड़ता है। यह इनकी उपस्थिति दर्शाता है। खटमल के मटमैले सफ़ेद रंग के चावल जैसे अंडे दिखाई दें या अंडे के खोल दिखाई दे तो समझ लेना चाहिए की खटमल मौजूद हैं। जिन्दा खटमल (Khatmal)  घूमते दिखाई दें तो प्रत्यक्ष प्रमाण मिल ही जाता है।

खटमल (Bed Bug) के 3 कारगर घरेलु उपाय :
खटमल की परेशानी दूर करने के लिए हमने यहां 3 नुस्खे बताएं हैं इनमें से आप किसी एक नुस्खे को आजमा सकते हैं। पर तीसरा नुस्खा सबसे अच्छा है आप उसे जरूर आजमा कर देखें।

  1. पहला नुस्खा : यह बहुत कम लोगों को ही पता है पर पुराने जमाने से ही लोग सेम के पत्ते खटमल को नष्ट करने के लिए इस्तेमाल करते आ रहे हैं। इसके पत्तों के सतह पर छोटे-छोटे बाल पाए जाते हैं जो खटमल को चूस लेते हैं। इसके लिए आपको सेम के पत्ते लेना है और उसे उस जगह छिड़क देना है जहां खटमल पाए जाते हैं।
  2. दूसरा नुस्खा : खटमल को हेयर ड्रायर की मदद से भी नष्ट किया जा सकता है। आप में से बहुत से लोगों ने खटमल से छुटकारा पाने के लिए बिस्तर को धूप में रख दिया होगा परंतु इससे कोई फायदा नहीं होता क्योंकि ऐसा करने से धूप के द्वारा खटमलों को उतनी गर्मी नहीं मिल पाती जिससे कि वह नष्ट हो सके। परंतु हेयर ड्रायर की तापमान को बढ़ाकर आप आप इसकी मदद से बिस्तर से खटमलों को नष्ट कर सकते हैं।
  3. तीसरा नुस्खा : तीसरा नुस्खा है बेकिंग पाउडर की मदद से खटमलों को नष्ट करना। बेकिंग पाउडर में किसी भी चीज को सूखा करने वाला गुण होता है इसलिए यह खटमलों के शरीर से नमी सोख लेता है। इसके लिए आपको थोड़ा सा बेकिंग पाउडर लेना है और इसे अपने बिस्तर पलंग छोटे-छोटे छेद में भी डाल देना है। ऐसा करने से खटमल तो खत्म होंगे ही साथ ही इसके अंडे भी नष्ट हो जाएंगे जिससे कि या हमेशा के लिए खत्म हो जाएगा। जल्द परिणाम पाने के लिए इसे सप्ताह में दो बार जरूर करें।

खटमल (Bed Bug) के लिए अन्य 7 घरेलु उपाय :

  1. बेकिंग  सोडा : बेकिंग सोडा खटमल को सूखा कर मार देता है। खटमल छुपे होने की सम्भावना वाली जगह के आस पास बेकिंग सोडा छिड़क दें। इसे एक सप्ताह तक रहने दें। इसके बाद हटा दें और अच्छे से सफाई कर दें। यह प्रक्रिया 3 -4 सप्ताह दोहराएं। इससे खटमल के आतंक से मुक्ति मिलती है।
  2. टी ट्री ऑइल : यह एंटी बायोटिक , एंटीफंगल , एंटीसेप्टिक ,और एंटी वायरल गुण से युक्त होता है। यह खटमल सहित बहुत से कीड़े मकोड़े को मारने में भी कारगर होता है। इसके यह गुण खटमल को फैलने से रोक सकते हैं। इसे गुनगुने पानी में मिलाकर पूरे घर में स्प्रे करें। खटमल के छुपने लायक जगह पर अच्छे से स्प्रे करें। इसे सप्ताह में दो बार कुछ समय नियमित करने से इनसे छुटकारा मिल सकता है।
  3. नीम की पत्तियाँ : नीम की पत्तियां खटमल के छुपने  की जगह के आस पास रखें। इसकी गंध से खटमल मर जाते हैं। नीम की पत्तियां पानी में उबाल कर इस पानी को नहाने के पानी में मिला दें। फिर इससे नहायें। Khatmal या अन्य कीट पास नहीं आएंगे।
  4. नीलगिरी का तेल : नीलगिरी के तेल की कुछ बूँद पानी में मिलाकर जहाँ खटमल दिखाई देते हों वहां स्प्रे कर दें। कुछ अंतराल से नियमित इसे करने से खटमल से छुटकारा मिल जायेगा।
  5. लौंग का तेल : लौंग का तेल दांतों का दर्द भी मिटाता है और खटमल की परेशानी से भी मुक्ति दिलाता है। गुनगुने पानी में लौंग का तेल मिलाकर स्प्रे करने से खटमल का आतंक समाप्त होता है ।
  6. पिपरमेंट का तेल : यह तेल मच्छर कीट पतंगे आदि को दूर करता है। इसे शरीर के खुले अंगों पर भी लगाया जा सकता है। पानी में मिलाकर इसे स्प्रे करने से बहुत से कीड़े मकोड़े नष्ट हो सकते हैं। नियमित कुछ समय इस स्प्रे को करने से खटमल समाप्त हो सकते हैं। यह प्रभाव  Malaria Journal में भी प्रकाशित हो चूका है।
  7. पोदीने के पत्तियां : पोदीने की पत्तियां तोड़ मरोड़ कर खटमल वाली जगह फैला दें।  तीन चार दिन बाद साफ कर दें और नई पत्तियां डाल दें। इस तरह कुछ अंतराल से पत्तियों के प्रयोग से खटमल समाप्त हो सकते हैं।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch