Categories

This Website is protected by DMCA.com

अपने दुबले-पतले शरीर से है परेशान तो तुरन्त वजन बढ़ाने के लिए रात में अपनाएं ये 3 उपाय


  • यदि आप कम वजन वाले व्यक्ति हैं और आप वजन बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं, तो उच्च-कैलोरी खाद्य पदार्थों को खाना एक सही विकल्प हो सकता है। सूखे फल जैसे कि किशमिश और बादाम आपके वजन को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। आहार और व्यायाम का संयोजन आपको स्वस्थ तरीके से वजन बढ़ाने में मदद करेगा। अपने रोजाना के भोजन में 250 से 500 कैलोरी जोड़कर आप अपने वजन को बड़ी आसानी से बढ़ा सकते है।
  • आप अपने दैनिक भोजन में अधिक पोषक तत्व वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करे और शाम का नाश्ता जरूर करें। बर्गर और फ्राइज़ जैसे जंक फूड से वजन बढ़ाने के बजाय आप अनाज, फल, प्रोटीन, डेयरी, नट और अंकुरित अनाज का सेवन करें।
  • अच्छी बॉडी हर किसी को चाहिए सभी फिल्मों के अभिनेता की तरह दिखना चाहते है। पर कुछ लोगों की यह तमन्ना पूरी नहीं हो पाती क्युकी अना वजन जल्दी बढ़ता ही भी चाहे वो कितना ही भोजन क्यों ना खा ले। तो आज हम उन्हीं लोगों के लिए कुछ ऐसे 3 उपाय बताने जा रहे है जिसे आजमा कर आप चंद दिनों में मोटे हो सकते है तो चलिए जानते है वो उपाय।
मजबूत शरीर और वजन बढ़ाने के 3 प्राकृतिक उपाय :
  1. प्रतिदिन रात को सोने से पहले दूध और केला मिला कर खाएं। केला और दूध प्रोटीन, विटामिन, आहार फाइबर, और खनिजों की पर्याप्त मात्रा शरीर को प्रदान करते हैं। जिससे आपका शरीर फीट रहेगा और आपकी वजन भी बढ़ेगी।
  2. अगर आपको चंद दिनों में मोटा होना है तो ज्यादा से ज्यादा प्रोटीन वाले भोजन का सेवन करें। शरीर को फीट रहने के लिए सबसे ज्यादा प्रोटीन की ही जरूरत होती है इससे शरीर मजबूत बना रहता है और वजन आसानी से बढ़ने लगत है।
  3. अगर आप शाकाहारी है और मांस नहीं खाते तो आपको मोटे होने के लिए रोज सुबह चना या हरे मूंग दाल को पानी में फुलाकर कर खाना चाहिए। इससे आपके शरीर को जरूरी मात्रा में प्रोटीन की भरपाई हो जाएगी और वजन भी आसानी से बढ़ने लगेगा और शरीर को अच्छी मात्रा में ऊर्जा भी मिलेगी।

दूध और खजूर सेहत बनाने में रामबाण :
  • दूध और खजूर अकेले ही ताकत के भरपूर स्रोत हैं और इनका शेक तो सेहत के लिए खजाना ही हैं। ग्लूकोज और फ्रक्टोज से भरपूर खजूर एनर्जी बूस्ट करने का बेस्ट सोर्स होता है। एक्सपर्ट के अनुसार खजूर का दूध नाश्ते के साथ लेना ज्यादा फायदेमंद होता है। इसमें डाले जाने वाले खजूर की मात्रा व्यक्ति के डाइजेशन पर डिपेंड करती है। दूध और खजूर अकेले ही ताक़त के भरपूर स्रोत है। आज हम आपको बताएंगे कि दूध के साथ खजूर खाने से आपको क्या लाभ मिल सकते है। यदि आप 6 दिन सोते वक़्त दूध में खजूर का सेवन करेंगे तो आपको इसकी ताक़त का अंदाज़ा लग जाएगा, आप एक अलग ही ऊर्जा को अपने शरीर में महसूस करेंगे। 
बनाने की विधि : 
  • इसके लिए आप 1 गिलास दूध में 5 खजूर डालकर धीमी आंच पर पकाएं। 10 मिनट तक पकने दे और फिर आंच से उतार लीजिये और फिर गुनगुना करके पीए, इससे नाश्ते में लेना फायदेमंद होता है। ये खून की कमी को पूरा करता है, त्वचा को निखरता है, दिमाग को भी तेज करता है तथा दाँतो के लिए फायदेमंद है ये खजूर वाला दूध
दूध और खजूर के 10 अद्भुत फायदे :
  1. बॉडी बनाये : इसमें अच्छा खासा प्रोटीन होता है जो मसल्स बिल्डिंग में मदद करता है।
  2. एनीमिया : दूध और खजूर में मौजूद आयरन खून की कमी यानी एनीमिया से बचाने में कारगर साबित होता है।
  3. खूबसूरती बढ़ाए : दूध में खजूर मिलाकर पीने से ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है, जिससे त्वचा निखरती है।
  4. ब्रेन पावर : इस ड्रिंक में विटामिन बी 6 होता है, जो दिमाग तेज करने में मदद करता है। इससे मेमरी भी तेज होती है।
  5. मजबूत दांत : इस ड्रिंक में फास्फोरस होता है जो दांतों को मजबूत रखता है। मसूड़ों के लिए भी यह लाभदायक है।
  6. मर्दाना कमजोरी : इसमें ग्लूकोज, फ्रक्टोज की मात्रा अधिक होती है। ऐसे में इससे बॉडी को फौरन एनर्जी मिलती है और मर्दाना ताकत बढ़ती है।
  7. पाचन क्रिया : इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है जो डाइजेशन के लिए फायदेमंद होता है। इसे पीने से कब्ज की दिक्कत दूर होती है।
  8. हृदय : इसमें कॉलेस्ट्रॉल नहीं होता जो दिल को हेल्दी बनाकर रखता है।
  9. जोड़ो का दर्द : दूध और खजूर दोनों में कैल्शियम होता है जो जोड़ों के दर्द से निजात दिलाता है।
खजूर के 12 चमत्कारी फ़ायदे 
  1. कब्ज़ में स्थाई आराम : कब्ज़ का मुख्य कारण होता है आँत में खुश्की होना और खजूर आँतों की खुश्की को पूरी तरह से खत्म करता है । खजूर के द्वारा कब्ज़ को पूरी तरह खत्म करने के लिये रोज सुबह दो-तीन खजूर को एक कटोरी ताजे पानी में डुबोकर रख दीजिये और रात होने तक रखा रहने दीजिये । रात को सोते समय इन खजूरों को खूब चबा चबा कर खा लीजिये । यह प्रयोग 7-15 दिनों तक लगातार कीजिये ।
  2. वजन बढ़ानें में लाभकारी : खजूर में सभी पोषक तत्व तो पाये ही जाते हैं इसके अतिरिक्त यह कैलोरी और ग्लुकोज़ का भी बहुत अच्छा स्रोत है जिस कारण से यह दुबले-पतले लोगों में वजन बढ़ाने का काम कर सकता है । वजन बढ़ाने का लाभ उठाने के लिये14 साल से अधिक उम्र के लोग रोज पूरे दिन में 10-12 खजूर खूब चबा चबा कर खायें ।
  3. ऊर्जा देता है : खजूर में शरीर को तुरंत ऊर्जा देने की प्राकृतिक शक्ति होती है क्योंकि इसमें शुगर अधिक मात्रा में पायी जाती है । यह शुगर ग्लुकोज़ और फ्रक्टोज़ दोनों ही रूप में उप्लब्ध होती है । इस कारण से जब भी शरीर को अधिक ऊर्जा की जरूरत हो तो 2-3 खजूर खाकर ऊर्जा प्राप्त की जा सकती है। 
  4. नाड़ीतंत्र को मजबूत करे : शरीर का नाड़ीतंत्र सबसे ज्यादा उलझे हुये तंत्रों में माना जाता है । सम्पूर्ण शरीरेंद्रियों का मस्तिष्क के साथ सम्पर्क मुख्यतः नाड़ीतंत्र के द्वारा ही सम्भव हो पाता है । खजूर नाड़ीतंत्र का परम मित्र सिद्ध होता है । खजूर में उपलब्ध पोटाशियम नाड़ीतंत्र के लिये बहुत जरूरी होता है । साथ ही साथ यह रक्त्चाप को नियमित रखता है और हृदय को भी मजबूत करता है ।
  5. खून की कमी दूर करे : खजूर में शरीर के लिये लाभकारी और शरीर द्वारा आसानी से स्वीकार किया जाने वाला ऑयरन तत्व पाया जाता है । अतः खून की कमी से परेशान लोगों के लिये खजूर वास्तव में किसी वरदान से कम नही है । रक्ताल्प्तता के रोगियों के लिये रोज दो बार 2-2खजूर खाना पर्याप्त होता है ।
  6. मर्दाना ताकत : प्रतिदिन खजूर खाने और साथ में दूध पीने से शरीर को भरपूर शक्ति मिलती है । खजूर के सेवन से मर्दाना ताकत में वृद्धि होती है ।
  7. शरीर में शक्ति : दो खजूर को दूध में उबालकर खाने से और साथ में वही दूध पीने से शरीर में शक्ति का संचार होता है।
  8. हृदय रोग : हृदय रोगी यदि 4-5 खजूर रोज खायें तो यह उनकी रक्तवाहीनियों में रक्त का संचार सरल होता है जिससे रक्तसंचार के अवरोध होने से हृदय रोग की भावना नष्ट होती है। 
  9. कमर का दर्द : 2 खजूर को जल में उबाल कर, उसमें 2-3 ग्राम मेथी दाना का चूर्ण मिलाकर रोज खाने से महिलाओं का कमर का दर्द जल्दी ही ठीक हो जाता है ।
  10. नजला : खजूर को काली मिर्च के चूर्ण के साथ दूध में उबाल कर पीने से पुराना सूखा नजला ठीक होता है ।
  11. सूखी खाँसी : खजूर, मिश्री, मक्खन मिलाकर गरम दूध के साथ खाने से सूखी खाँसी ठीक होती है ।
  12. लीवर और तिल्ली : पाँच-सात खजूर रात भर पानी में भिगोकर सुबह उनकी गुठली निकालकर, गूदे को शहद के साथ खाने से लीवर और तिल्ली बढ़ने के रोग खत्म होते हैं ।
    विशेष नोट : 
    • खजूर बहुत ही मीठा होता है जिस कारण से यह शरीर में खून की शुगर के स्तर को एक दम से बढ़ाता है । अतः मधुमेह के रोगियों को खजूर का सेवन नही करना चाहिये। ऐसे रोगी यदि खजूर खाना ही चाहते हैं तो पहले अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर करें। 
    loading...
    Thank you for visit our website

    टिप्पणि Facebook

    टिप्पण Google+

    टिप्पणियाँ DISQUS

    MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch