Categories

This Website is protected by DMCA.com

सिर्फ़ 1 दिन में बालों की जूँ और लिख से निजात पाने का सबसे आसान घरेलु उपाय, जरूर अपनाएँ और शेयर करे


जूं (joo/ju/juon) अक्सर अधिकतर सिर में पाई जाती है। वैसे तो ये ज्यादातर सिर में पाई जाती है लेकिन कभी-कभी ये त्वचा और अन्य अंगों में भी हो जाती है। जूं जिसके सिर में होती है वह उसी का खून चूसकर ज़िंदा रहती है। जुएं अधिकतर पसीने से पैदा होती हैं जो बालों में लगे रहने के कारण बालों की जड़ों में पहुंच जाते हैं और उसमें खुजली पैदा करते हैं। जूं से पीड़ित रोगी के साथ सोने वाले के बालों में जूं पड़ जाते हैं। यह सूक्ष्म (छोटे) परजीवी होते हैं जो मनुष्य के सिर में पलते हैं।
बालों में जूओं का होना एक आम समस्या है। यह अधिकांशत: छोटे बच्चों के सिरों में होती हैं। जूओं के होने पर बालों में बहुत अधिक खुजली होने लगती है। जूँ एक परजीवी कीड़ा है जो मनुष्य के खून को अपनी खुराक बनाती है। एक जूँ महीने मे 50 से 100 अंडे दे सकती है| और जुएं ये अंडे हमारे सिर मे रहकर देती है , 10 दिन के अंदर ये अंडा (जिन्हे सामान्य भाषा मे लीख कहा जाता है) नये जूँ का रूप ले लेती है| जूएं बालों में आसानी से छुप जाती हैं। जूओं के कारण खुजली होने से संक्रमण होने का भय बना रहता है। बालो मे जूँ होने के कारण बच्चे के सिर मे खुजली होने लगती है जिसके बढ़ने पर स्कैल्प पर दाने भी हो सकते है और यदि इन फुंसियो का समय पर इलाज न करवाया जाए तो परिणाम उससे भी बदतर हो सकते है इसलिए जुओं का सही समय पर सही इलाज आवश्यक है |

सिर में जूँ और लिख होने के कारण
  1. जुएं तेजी से, एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक फैल सकती हैं यदि वे लोगः
  2. हैट, स्कार्फ, कंघी, ब्रश, हेयर क्लिप अथवा बैरेट, हेयर बैंड, हेलमेट अथवा कपड़ों, का अदल-बदलकर इस्तेमाल करते हैं।
  3. एक ही बिस्तर, पलंग अथवा कालीन का प्रयोग करते हैं। बहुत निकट रहकर खेलते हैं।
  4. ऐसे अलमारी अथवा लॉकर में रखी गई, वस्तुओं का प्रयोग करते हैं, जिन में जुएं अथवा उनके अंडे मौजूद होते हैं।
  5. जूएं एक-दूसरे से जल्दी फैलती हैं।अतः अपना कंघा सबसे अलग रखें।
  6. जूओं को खत्म करने के लिए कई प्रकार की दवाइयां बाजार में उपलब्ध हैं जिनका नियमित प्रयोग करें। आप चाहे तो जूँ हटाने के लिए घरेलू उपचार का सहारा ले सकते है जिसके लिए नीचे बेहतरीन अजमाए हुए नुस्खे बताये गए है जिनके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं होते है |

जूँ और लिखों से छुटकारा पाने लिए घरेलु उपाय  :
  1. धतूरा (Datura) :  धतूरे के पत्तों को कूटकर उसका रस निकाल लें और इसे बालों में अच्छे से मालिश करें। इससे जूएं (joo)मर जायेंगी।
  2. मूली (Radish) : मूली के रस से सिर को धोने से लीखें और जुएं झड़ जाती हैं।
  3. कालीमिर्च (Black pepper) : 10 से 12 सीताफल के बीजों और 5 से 6 कालीमिर्चों को पीसकर, सरसों के तेल में मिलाकर और रात को सोने से पहले बालों की जड़ तक मलने से सिर की जूएं(juon) मर जाती हैं।
  4. चुकन्दर (Beet) : चुकन्दर के पत्तों को पानी में उबालकर सिर को धोने से फरास दूर जाती है और जुएं भी मर जाती हैं। चुकन्दर के पत्तों का रस निकालकर या पत्तों को पीसकर उसमें हल्दी मिलाकर गंजे सिर पर लगाने से बाल उगने लगते हैं और बालों का टूटकर गिर जाना या बालों का उड़ना बन्द हो जाता है।
  5. अजवाइन (celery) : एक चम्मच फिटकिरी और 2 चम्मच अजवायन को पीसकर एक कप छाछ में मिलाकर बालों की जड़ों में सोते समय लगाएं और सुबह धो लें। 10 ग्राम अजवायन के चूर्ण में 5 ग्राम फिटकरी का बारीक चूर्ण मिला लें। इसे दही या छाछ में मिलाकर बालों में मलने से लीखें तथा जुएं मर जाती हैं।
  6. नीम (neem) : नीम की निबोलियों को घोटकर सिर में लगाने से जूएं मर जाती हैं। नीम का तेल और सरसों का तेल बराबर मात्रा में मिलाकर कुछ दिनों तक रोजाना बालों में मालिश करने से जूएं से छुटकारा मिलता है। नीम के पत्तों को पानी में उबालकर ठंड़ा कर लें। इसके बाद उस पानी से सिर को धो लें। इससे जुएं समाप्त होती हैं। नीम का तेल लगाने से जूएं मर जाती हैं।
  7. नींबू (Lemon) : पानी में चौथाई भाग नींबू का रस मिलाकर घोल बना लें। इस बने घोल से रोजाना बालों को धोयें। इससे जुंए मर जायेंगी। नींबू के रस को बालों की जड़ों में धीरे-धीरे मालिश करने से कुछ ही दिनों में जूएं मर जाती हैं। नींबू का रस और लहसुन का रस दोनों को मिलाकर सिर में एक-दो बार मालिश करें। इसके बाद सिर को धो लें और शैम्पू से साफ कर लें। इससे जूएं कम हो जाती हैं।
  8. शरीफा : शरीफा के बीजों को बारीक पीसकर सिर में लगाकर, किसी मोटे कपड़े से सिर को रात में अच्छी तरह बांधकर सोने से जूंएं मर जाती हैं। इस बात का ध्यान रखें कि यह आंखों तक न पहुंच पाये क्योंकि यह आंखों के लिए नुकसानदायक है। शरीफा के पत्तों का रस बालों की जड़ों में अच्छी तरह मालिश करने से जुंए मर जाती हैं। शरीफा के बीज पीसकर माथे पर लगाने से जुंए नष्ट हो जाएंगी।
  9. पांच-छ: काली मिर्च पीसकर एक कप दही में मिलाएं। एक निम्बू का रस भी मिलाएं। बीस मिनट बाद सिर धो लें। जूएं खत्म हो जाएंगी।
  10. नारियल के तेल में निम्बू का रस मिलाकर लगाने से भी जूएं दूर हो जाती हैं।
  11. नीम के पतों को पीसकर लगाने से भी जूओं से छुटकारा पाया जा सकता है। नीम के तेल से सिर की जुएँ और लीखें मर जाती हैं। इसके लिए रात में सोते समय बालों में लगायें |
  12. लहसुन को पीसकर निम्बू (Lemon) के रस में मिलाएं तथा रात को सोते समय सिर में लगाएं। सवेरे शैम्पू से सिर धो लें। इसके लगातार प्रयोग से फिर कभी जूएं नहीं होंगी।
  13. सिर की लीखों से छुटकारा पाने के लिए बोरिक पाउडर काफी मात्रा में पूरे सिर पर अच्छी तरह छिड़कें व 20 मिनट बाद बारीक कंघी करें। लीखें निकल जाएंगी।
  14. जूएं होने पर बालों में प्याज का रस लगाएं, तीन-चार घंटे बाद बालों को धो लें। तीन-चार दिन लगातार ऐसा करने से सिर की जूएं अपने आप खत्म हो जाएंगी।
  15. सीताफल के बीजों का चूर्ण रात को बालों में लगाएं। बालों पर अच्छी तरह कपड़ा बांध लें। इससे सिर की जूएं तथा लीखें मर जाती हैं।
  16. नारियल के तेल में कपूर का चूर्ण मिलाकर लगाने से भी जूएं और लीखें खत्म हो जाती हैं।
  17. बहुत इलाज करने पर भी यदि जूँएं खत्म नहीं हो रही हों तो तीन चम्मच पानी में एक चम्मच सिरका मिलाएं। इस मिश्रण को सप्ताह में तीन बार रात को बालों में लगाकर सोएं। सुबह शैम्पू से सिर धो दें। महीने-भर ऐसा करने से सिर से जूएं खत्म हो जाएंगी।
  18. रात को पेट्रोलियम जेली अपने बालों मे लगाकर सोए और सुबह बाल धोने से पूर्व कंघी की मदद से बालो को संवारें जिससे मरी हुई जूँए बाहर निकाल आएँगी, लगातार प्रयोग करने से आपके बालो की जुएं पूरी तरह मर जाएँगी.
  19. लहसून का कसैला स्वाद भी जूँओं को मारने में सहायक सिद्ध होता है। नहाने से पहले लहसुन की लेई नींबू के रस के साथ मिलाकर सिर पर लगाने से भी जुओं से छुटकारा दिलाने में मदद करता है।
  20. प्यास को पीसकर उसका रस निकाल ले. इस रस को 10 मिनट के लिए अपने बालो मे लगाएँ और बालो को किसी कपड़े आदि से ढक ले प्याज के स्थान पर आप मूली का भी प्रयोग कर सकते है.
  21. बेबी आयल लगाकर कंघा इस तरह बालों में घुमाएं कि जूँएं नीचे गिरने लगें। इसके बाद बालों को गर्म पानी और कपडे धोने के डिटर्जेंट को थोडा सा लेकर धोएं। 
  22. लिखों का इलाज के लिए रात में बालों में थोड़ा सिरका लगाएं और सिर में एक तौलिया लपेटकर रातभर बालों में रहने दें। सुबह बालों को सामान्य शैम्पू से धो दें। अच्छे परिणामों के लिए इस प्रक्रिया को 3 से 4 दिन तक प्रयोग में लाएं।
  23. जैतून का तेल भी जुओं को सांस लेने नहीं देता और उन्हें मार देता है। रात को सिर में जैतून का तेल लगाएं और सिर को तौलिये या शावर कैप से ढक लें। यह भी जूँ उपचार का अच्छा नुस्खा है |
  24. लीख हटाने के लिए नमक और सिरके का पेस्ट बनाएं और सिर पर लगाएं। अब सिर को शावर कैप से ढक दें और 2 घंटे तक ऐसे ही छोड़ दें। इसके बाद बालों में शैम्पू एवं कंडीशनर का प्रयोग करें।
  25. जूँ मारने की दवा के रूप में पेट्रोलियम जेली का प्रयोग भी काफी सफल होता है | इसलिए जुओं से छुटकारा पाने के लिए बालों में रात को पेट्रोलियम जेली की एक मोटी परत लगाएं और सिर को तौलिये से ढक दें। सुबह बेबी आयल युक्त पेट्रोलियम जेली को बालों से निकाल दें।
  26. दो चम्मच नींबू का रस और दो चम्मच जिंजर (अदरक) का जूस मिलाकर सिर पर मलने से जूएं खत्म हो जाती हैं।
  27. जूँ मारने की दवा बनाने के लिए 20 ग्राम सुहागा और 20 ग्राम फिटकरी लेकर 250 ML हल्के गर्म पानी में मिलाकर सिर में लगाने से लीखो और जुओं से छुटकारा मिलेगा |
  28. अमरुद के पत्तों को पीसकर हल्दी के साथ मिलाकर मिश्रण बना लें और नहाने से दो घंटे पहले सिर पर मल दें। इससे आपको जूँ से छुटकारा मिल जायेगा। 
  29. जूँ मेंहदी की गंध से दूर भागती हैं | घर के प्रत्येक सदस्य के तकिये की खोल के अन्दर थोड़ी मात्रा में ताजी मेंहदी (2-3 छड़ियाँ) रखी जानी चाहिए | जुओं से छुटकारा पाने के लिए इन्हें तकिये के नीचे भी रखा जा सकता है |
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch