Categories

रोजाना सिर्फ 5 मिनट दबाएँ कलाई के इस बिंदु को मिल जाएगा बीड़ी, सिगरेट, तम्बाकू और शराब की आदत से छुटकारा

  • अमेरिकन लंग एसोसिएशन के अनुसार, संयुक्त राज्य में हर साल 480000 से ज्यादा मौतों सिर्फ तम्बाकू के इस्तेमाल और उसके धुएं के संपर्क में आने के कारण होता हैं। भारतीय लोग धूम्रपान करने में सबसे आगे हैं। यह बात हम नहीं बल्कि एक रिसर्च में यह बात सामने आई है। जिसमें कहा गया है कि एक शख्स दिन में लगभग 8 से ज्यादा सिगरेट पी जाते हैं। सिगरेट, गुटखा, तम्बाकू और शराब की खतरनाक लत इस तनावभरी जिंदगी में ना छुटने वाली एक आदत है। भले ही इसे छोड़ना बहुत ही मुश्किल काम है लेकिन नामुमकिन नहीं। आप यहाँ बताए गये उपाय को अपनाकर इससे छुटकारा पा सकते है....
धूम्रपान की आदत को छुड़ाने के लिए एक्यूप्रेशर चिकित्सा के द्वारा उपचार
  • आज के आधुनिक युग में धूम्रपान करना लोगों का शौक बन गया है। यह एक प्रकार का नशा है जिसकी आदत पड़ जाए तो बहुत मुश्किल से छूटती है। धूम्रपान करने से धूम्रपान करने वालों की सेहत बिगड़ने लगती है तथा उसे कई प्रकार की बीमारियां लग जाती है। अगर व्यक्ति को स्वस्थ रहना है तो उसे धूम्रपान नहीं करना चाहिए। 
(प्रतिबिम्ब बिन्दु पर दबाव देकर एक्यूप्रेशर चिकित्सा द्वारा इलाज करने का चित्र)
  • इस चित्र में दिए गए एक्यूप्रेशर बिन्दु के अनुसार रोगी के शरीर पर दबाव (अपने हाथ के अंगूठे से 10-15 सेकंड दबावे फिर छोड़े लगभग 15-30 मिनट, यह रोजाना दोहराये) देकर धूम्रपान की आदत को छुड़ाया जा सकता है। रोगी को अपनी धूम्रपान की आदत छोड़ने के लिए किसी अच्छे एक्यूप्रेशर चिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए क्योंकि एक्यूप्रेशर चिकित्सक को सही दबाव देने का अनुभव होता है। नोट : इस बात का ध्यान रखे की दबाव सहनीय और सामान्य  हो ज्यादा असहनीय न हो।
आयुर्वेद के कुछ ऐसे आसान उपाय है जिसके उपयोग से आपकी धूम्रपान की आदत छूट जाएगी।
  1. अदरख, निम्बू और काला नमक से गुटखा, तम्बाकू और शराब छूट जाएगी : अदरख तो लगभग हम सभी के घर पर आराम से मिल जाती है आप अदरख के टुकड़े को चाकू से उपरी परत यानि छिलके को छील ले फिर अदरख के इस प्रकार टुकड़े करे जिस तरह गुटखे में सुपारी के होते हैं टुकड़े काटने के बाद उसमे एक निम्बू के रस को डाल दे फिर इसमें अपने हिसाब से काला नमक मिला ले इन तीनों चीजों को अच्छे से मिला ले अब आपको इसके मिश्रण को धूप में दो से चार दिन तक सुखा ले सूख जाने के बाद आप इसे एक छोटे से डिब्बे में रख ले अब जब भी आपका मन गुटखा खाने को करे तो आप इस अदरख वाले नुस्खे को खाये फिर देखियेगा आपका कितनी हद तक आपका गुटखा खाना कम हो जायेगा तम्बाकू और शराब छूट ये तिनो धीरे धीरे छूट जायेगा अदरख तो वैसे भी नुकसान नही करती बल्कि हमारे शरीर व दाँतों के लिये बहुत फायदेमंद है। यह सबसे आसान और कारगर उपाय है इसे आप एक बार आज़मा सकते है।
  2. ओट्स : ओट्स शरीर से घातक विषैले पदार्थों को बाहर निकालता है और स्मोकिंग की चाहत को कम कर देता है।
  3. पानी : पानी भी शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। भोजन करने से 15 मिनट पहले एक गिलास पानी पीएं, इससे मैटाबॉलिक रेट काबू में रहें। इसके अलावा दिनभर थोड़ा थोड़ा पानी जरूर पीते रहे।
  4. अंगूर के बीज का अर्क : यह क्षारीय प्रकृतिक का होता है, जो कि रक्‍त में एसिडिटी को कम करता है और फेफड़ों तथा शरीर को स्‍मोकिंग से जो नुकसान हुआ है, उससे बचाता है।
  5. शहद : शहद में विटामिन्‍स, एंजाइम और प्रोटीन होता है जो कि आराम से स्‍मोकिंग की आदत को छुड़वाने में मदद करेगा। हमेशा शुद्ध शहद का प्रयोग करें क्‍योंकि उसी से अच्‍छा रिजल्‍ट मिलेगा।
  6. मूली : घिसी मूली खाने से उन लोगों को लाभ मिल सकता है, जो चेन स्‍मोकर्स या फिर बुरी लत से पीडित हैं। इसका अच्‍छा रिजल्‍ट पाने के लिए इसे शहद के साथ खाएं।
  7. मुलेठी : जब भी स्‍मोकिंग का मन करें तो आप मुलेठी की दातून लेकर उसे चबा सकते हैं, आपकी स्‍मोकिंग की इच्‍छा कम हो जाएगी। इससे आपका पेट भी ठीक रहेगा।
  8. लाल मिर्च : लाल मिर्च श्वसन प्रणाली को मजबूत बनाने का काम करती है। यह स्‍मोकिंग की चाहत को भी खत्म करती है। इस मसाले को अपने खाने में प्रयोग करने के साथ ही 1 गिलास पानी में चुटकी भर भी प्रयोग कर सकते हैं। आपको इससे तुरंत राहत मिल जाएगी और यह लंबे समय तक काम करेगा।
  9. जिनसेंग : यह एक शक्तिशाली हर्ब है, जो शरीर में ऊर्जा का स्तर बढ़ा देता है। जब आप स्मोकिंग छोड़ रहे होते हैं, तो आपका शरीर तनाव और आलस्य की चपेट में आ जाता है। जिनसेंग इन सबसे निपटने में मदद करता है।
आप इनमे से कोई भी उपाय को अपनाकर अपनी धूम्रपान की आदत को छुड़ा सकते हो। यदि आप को ये जानकारी उपयोगी लगे तो इसे शेयर जरूर करे ताकि सभी को इसका लाभ मिल सके।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch