Categories

एक माह तक करें इन तीन चीज़ो का सेवन, शरीर ऐसा बनेगा कि लोग पूछने लगेंगे



मित्रों All Ayurvedic में आपका स्वागत है, आज हम आपके लिए लाए है दुबलापन दूर करने के बेहद आसान तरिका। अक्सर दुबला-पतला व कमजोर व्यक्ति लोगो के बीच मजाक का पात्र बन जाता है | पतला व्यक्ति अगर स्वस्थ भी है तो भी व लोगो को रोगी नजर आता है | कमजोर आदमी को कपड़े भी शूट नहीं करते है | दुबला होने के कारण है पांचन तंत्र ठीक ना होना, जिससे खाया पिया अंग नहीं लगता है या कुछ लोगो को भूख ना लगने की भी समस्या होती है | आज आपको ऐसा घरेलू नुस्खा बताने जा रहै है जिसके लगातार प्रयोग करने से आप अपने शरीर को सुडौल और मस्कुलर बना सकते है | यदि आपको लगता है कि वजन कम करना मुश्किल है और वजन बढ़ाना बहुत आसान है तो आप गलत हो सकते है। वजन बढ़ाना कुछ लोगों के लिए बहुत मुश्किल काम हो सकता है। उचित व्यायाम के अलावा, आहार वजन बढ़ाने में एक बड़ी भूमिका निभाता है।

यह 3 खाद्य पदार्थ हैं जो स्वाभाविक रूप से आपके वजन को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं

  1. केला और दूध : एक अच्छे स्वास्थ्य के लिए केला बहुत ही जरुरी हैं, यह कार्बोहाइड्रेट से समृद्ध होता हैं और यह आपके शरीर की ऊर्जा को बढ़ाने का काम करता हैं। आपको रोज सुबह एक गिलास दूध और 2 केले खाने चाहिए, इससे आपका वजन बहुत तेज़ी से बढ़ेगा।
  2. दूध और दालचीनी : दालचीनी को वंडर स्पाइस भी कहते है | एक और जहां खाने का जायका बढ़ाने के का आती है वही सेहत के लिहाज से भी दालचीनी के कई फायदे है | दालचीनी में मौजूद कम्पाउंड कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है जो सेहत और खूबसूरती दोनों के लिए फायदेमंद है | यूँ तो दालचीनी अपने आप में ही एक अच्छी ओषधि है लेकिन दूध के साथ मिलकर पीना और भी फायदेमंद है | दालचीनी वाला दूध बनाना बहुत ही आसान है | एक गिलास दूध लेकर उसमे दालचीनी का पाउडर अच्छी तरह से मिला ले और इस दालचीनी मिक्स दूध का हर रोज सुबह के समय सेवन करे | हर चीज शरीर पर धीरे-धीरे असर करती है | कई लोग इन नुस्खों का लगातार प्रयोग नहीं कर पाते है | कुछ दिन प्रयोग के बाद वो इस क्रिया को करना बंद कर देते है जिससे उनके शरीर पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ता है | अगर आपको अपनी बॉडी बनानी है तथा अपने शरीर को गठीला व मजबूत बनाना है तो लगातार तीन या चार महीनो तक इस उपाय को करना है | ये उपाय सेहत बनाने के साथ शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ता है तथा कई बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करता है |
  3. पनीर : पनीर वसा, कैल्शियम और प्रोटीन का एक शानदार स्रोत है, ये उन लोगो के लिए एक विकल्प के तौर पर काम करता है जो लोग समुद्री भोजन, मांस या अंडे का सेवन नहीं कर सकते है। पनीर का उपयोग कई भारतीय घरों में किया जाता है और विभिन्न व्यंजनों में इसका उपयोग किया जाता है। हालांकि, इसे कच्चा और बिना किसी मसाले के खाना सबसे अच्छा होता है। रोज कम से कम 100 ग्राम पनीर खाने से आपके वजन में वृद्धि होगी।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch