Categories

ब्लड प्लेटलेट्स बढ़ाने में मददगार हैं ये छोटे-छोटे टिप्स

बदलते मौसम में डेंगू , मलेरिया, टाइफाइड जैसे रोगों का प्रकोप बढ़ जाता है। जब यह रोग शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर कर देते है तो रक्त प्लेटलेट्स की सख्यां कम होने लगती है। इन दिनों यह समस्या बहुत से रोगों को अपनी चपेट में ले रही है। जब शरीर में इनकी कमी अधिक हो जाए तो प्लेटलेट्स चढ़ाने तक की नौबत आ जाती है। इसलिए जरूरी है कि अपने खान-पान और सेहत का खास ध्यान रखा जाए ताकि शरीर को इस तरह के रोगों से बचाया जा सकता है।
क्या है शरीर में प्लेटलेट्स की भूमिका?
  • स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में 5 से 6 लीटर खून होता है। हमारे रक्त में कई तरल पदार्थ होते है, जिनमें लाल और सफेद रक्त कोशिकाओं शामिल होती है। इन्हीं से एक प्लेटलेट्स बनती है। हमारे शरीर में मौजूद खून का काफी बड़ा हिस्सा इनसे बना होता है। इनका सबसे बड़ा कार्य शरीर में रक्तस्राव होने से रोकना है। 
  • अगर शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या 30 हजार से कम हो जाए तो शरीर में रक्त स्राव होने की आशंका बढ़ जाती है। जिस वजह से खून नाक, कान, मल इत्यादि से बाहर आने लगता है। अगर स्त्राव अंदर ही होने लगता है तो शरीर के विभिन्न अंगों के फेल होने की आंशका बढ़ जाती है।

शरीर को प्लेटलेट्स को पूरा करने के लिए कुछ घरेलू तरीके

  • पपीते के पत्ते: पपीते के पत्ते प्लेटलेट्स बढ़ाने में काफी लाभाकारी है। ऐसी स्थिति में मरीज को इसके पत्तो का सेवन करवाएं।
  • गिलोय: दो चुटकी गिलोय के सत्व में 2 चम्मच शहद मिलाकर मरीज को दिन में दो बार दें। रात को गिलोय की डंडी को रात भर पानी में भिगो कर रख दें। फिर सुबह इसका छना हुआ पानी पी लें।
  • चुकंदर: चुकंदर प्राकृतिक एंटीऑक्‍सीडेंट और हेमोस्टैटिक गुण मौजूद होते है जो प्‍लेटलेट काउंट को कुछ ही दिनों बढ़ा देता है। तीन चम्मच चुकंदर के रस को एक गिलास गाजर के रस में मिलाकर पीएं।
  • नारियल पानी: शरीर में ब्‍लड प्‍लेटलेट को बढ़ाने में नारियल काफी लाभकारी है। नारियल पानी में इलेक्ट्रोलाइट्स तत्व मौजूद होता है जो शरीर में ब्लड प्लेटलेट्स की कमी को पूरा करता है। इसके अलावा ऐसी स्थिति में किसी न किसी तरल पदार्थ का सेवन करते रहना चाहिए।
  • आंवला: आंवला में विटामिन सी भरपूर होता है जो प्‍लेटलेट्स के उत्‍पादन को बढ़ाता है और प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देता है। रोजाना सुबह खाली पेट 3-4 आंवलों का सेवन करें। इसके अलावा आंवले के जूस में शहद मिलाकर पीएं।
  • कद्दू: कद्दू कम प्‍लेटलेट कांउट में सुधार करने में काफी मददगार है। यह रक्त कोशिकाओं में उत्‍पादित प्रोटीन को नियंत्रित करता है, जो प्‍लेटलेट के स्‍तर को बढ़ाने का काम करता है। कद्दू के आधे गिलास जूस में एक से दो चम्मच शहद डालकर दिन में 2 बार पीएं।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch