Categories

भुना हुआ मक्का होता है पावर बैंक जैसा, इसके गुण जानकर रोज खाएंगे


मक्का मोटे अनाजों में सबसे उत्तम माना जाता है। सभी लोग बड़े चाव से इसे भुन कर खाते हैं। स्नैक्स उद्योगों में व्यापक पैमाने पर इस मोटे अनाज का प्रयोग होता है। आमतौर पर इसे देसी अनाज भुट्टा भी कहा जाता है। यह मुख्यता देहात क्षेत्र में उपजाया जाता है, जहां इसके लिए अनुकूल वातावरण मौजूद होता है।

आइए बात करते हैं मक्का के उन अद्भुत पौष्टिक गुणों की जिस वजह से इसे पावर बैंक भी कहा जा सकता है,

विटामिन A का प्रचुर स्रोत: एक परिपक्व मक्के में पर्याप्त मात्रा में कैरोटिनॉयड पाया जाता है जो कि विटामिन ए का अच्छा स्रोत है। यह विटामिन ए, आंखों की रोशनी के लिए काफी लाभकारी होता है। यह हमें आँखों के रोगों से भी बचाता है।

कुपोषण दूर करता है: हम जब मक्के को पका कर खाते हैं तो उसके पोस्टिक गुण और भी बढ़ जाते हैं। इस हेल्थी फूड को कॉर्न भी कहते हैं। यह गिरते हुए वजन को संतुलित करता है और शरीर को मजबूत बनाने में मदद करता है। इस वजह से यह कुपोषण से लड़ने में काफी असरदार होता है। साथ हीं यह भूख को भी संतुष्ट करता है। खून बनाने और बढाने में बेहद फायदेमंद

मक्के या भुट्टे में पर्याप्त मात्रा में फॉलिक एसिड मौजूद होता है। यह फोलिक एसिड शरीर में रक्त निर्माण में सहायक होता है। विशेष रुप से यह गर्भवती महिलाओं के लिए भी काफी लाभकारी होता है। यह उनके शरीर में पल रहे बच्चे को भी पर्याप्त पोषण देता है।

रोग से लडने की क्षमता : भुना हुआ मक्का और भी अधिक स्वादिष्ट लगता है और सबसे अच्छी बात यह है कि यह स्वाद के साथ साथ हमें कई तरह के रोगों से लड़ने की क्षमता भी देता है। कहने का तात्पर्य है कि यह हमारी रोग रोधक क्षमता को बढ़ाता है।

दांतों के लिए: हम भुना हुआ भुट्टा चबाने में थोड़ा चीमड होता है। इसके लिए हमारे दांतो को थोड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। ऐसा करना दांतों की कसरत करने से कम नहीं है। इस तरह यह हमारे दांत और मसूड़ों को मजबूती भी प्रदान करता है।
उम्मीद है कि यह सब जानने के बाद अब आप और भी मजे से भुट्टे खाएंगे। मक्के या भुट्टे के बारे में ऐसे अद्भुत तथ्य जानकर अगर आपको अच्छा लगा तो इस आर्टिकल को लाइक और शेयर करें।

Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch