Categories

एसिडिटी और पेट में जलन का राजीव दिक्षित जी का सबसे कारगर घरेलू उपाय


  • आजकल की दौड़भरी जिंदगी में हम अपने खान पान पर ध्यान नहीं दे पाते, जिस कारण हम एसिडिटी, पेट दर्द, पेट में जलन, गैस और कब्ज जैसी बीमारियों से घिरे रहते है। हमारा पाचन तंत्र हमारे खाने को पचाने के लिए पेट में एसिड बनाता है, जिस कारण हमारा पाचन तंत्र नियंत्रित रहता है। 
  • इस एसिड की मात्रा अगर सही रहे तो हमारा पेट स्वस्थ रहता है पर अगर इसकी मात्रा बढ़ जाये तो यह एसिडिटी (अम्लता) बन जाती है। एसिडिटी का उपचार के लिए बाजार में बहुत सी मेडिसिन उपलब्ध है, जिसमें से कुछ दवा कंपनियां तो तुरन्त आराम का दावा करती है।
  • इन दवाओं से हमें आराम तो मिल सकता है पर यह एसिडिटी से छुटकारा पाने का सटीक उपाय नहीं है। हम इसका इलाज कई वर्षो से हमारे घरो में अपनाये जा रहे घरेलू उपाय और आयुर्वेदिक देसी नुस्खे अपना कर सकते है। 

किन कारणों से होता है ये?

  • खान पान पर ध्यान न देने से
  • बाजारी, तीखे व चटपटे खाने के कारण
  • नशे व धूम्रपान के कारण
  • वक़्त पर खाना न खाने से
  • खाली पेट चाय पिने से
  • चाय कॉफ़ी का अधिक सेवन करने से
  • शरीर में गर्मी का अधिक होना भी एसिडिटी का कारण बन सकता है।

 आयुर्वेदिक नुस्खे के द्वारा इलाज: 

  1. अदरक का सेवन एसिडिटी के इलाज में अचूक उपाय है। अदरक की चाय इस परेशानी में बहुत लाभदायक है। अदरक के छोटे छोटे टुकड़े करे और एक गिलास पानी में गर्म करके छानकर पानी को गुनगुना होने पर सेवन करे।
  2. एसिडिटी और पेट की जलन की समस्या में एलोविरा का जूस एक बेहतरीन उपाय है। प्रतिदिन इसका प्रयोग करने से एसिडिटी से छुटकारा मिलता है।
  3. गुलुकंद का सेवन भी काफी हद तक एसिडिटी की रोकथाम में उपयोगी है।
  4. अजवायन, सौंफ, जीरा व सवा के बीज के एक-एक चम्मच को पानी में उबाले फिर इसे छानकर रोजाना दो से तीन बार सेवन करे। ऐसा करने से पेट की समस्याओ से निजात मिलता है।
  5. एक चम्मच बेकिंग सोडा को एक गिलास पानी में मिलाकर सेवन करने से एसिडिटी से जल्दी ही आराम मिलता है।
  6. राजीव दिक्षित जी कहते है की दस ग्राम किशमिश को रात को भिगोकर सुबह खाने से एसिडिटी से आराम मिलता है ।
  7. बादाम एसिड को नियंत्रित करने का काम करता है । पेट में जलन होने पर तीन से चार बादाम खाये।
  8. पेट में गैस की परेशानी जलन की समस्या व पेट दर्द में लौंग इलायची और तुलसी के पत्तों का प्रयोग बहुत ही उपयोगी व बेहतरीन इलाज है।
  9. कददू , पत्तागोभी, गाजर और प्याज से बनी सब्जियां पेट में जलन होने पर सेवन करे।
  10. भोजन करने के बाद एक गिलास पुदीने का पानी उबाल कर पीने से भी एसिडिटी से आराम मिलता है।
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch