Categories

आँखे फटी की फटी रह जायेगी जब पपीते के बीजों के 10 अद्भुत फायदे जान जाओगे, जरूर पढ़े और शेयर करे



➡ पपीते के बीज :
  • पपीते की तरह इसके बीजों के भी कई स्वास्थ्य लाभ हैं। इनका इस्तेमाल दाद संक्रमण, कैंसर और बच्चों में पेट के कीड़े जैसी विभिन्न समस्याओं से निपटने के लिए किया जा सकता है। पपीते के बीज भी उतने ही अनमोल और पोषण से भरपूर हैं, जितना पपीता। www.allayurvedic.org
➡ आइए जानते हैं पपीते के बीजों के खास गुण :
  1. लीवर : लीवर की समस्याओं से निजात दिलाकर पपीते के बीज उसे मजबूत बनाने का काम भी करते हैं। यह लीवर के लिए बेहतर दवा साबित होते हैं।
  2. किडनी : पपीते के बीज किडनी के लिए भी बेहद फायदेमंद होते हैं। किडनी स्टोन और किडनी के ठीक तरीके से क्रियान्वयन में पपीते के बीज कारगर हैं।
  3. एंटी बैक्टीरियल : पपीते के बीज, एंटी बैक्टीरियल होते हैं, जो बीमारी फैलाने वाले जीवाणुओं से आपकी रक्षा करते हैं।
  4. कैंसर से बचाव : पपीते के बीज में पाए जाने तत्व कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से आपकी रक्षा करते हैं। कैंसर से बचने के लिए पपीते के सुखाए गए बीजों को पीसकर प्रयोग किया जा सकता है ।
  5. पाचन तंत्र : पाचन तंत्र की मजबूती के लिए पपीते के बीज रामबाण इलाज है। इसके सेवन से पाचन ठीक से होता है, और पाचन संबंधी सारी समस्याएं खत्म हो जाती है। www.allayurvedic.org
  6. इंफेक्शन या एलर्जी : इंफेक्शन होने या शरीर के किसी भाग में जलन, सूजन या दर्द होने पर पपीते के बीज राहत देने का कार्य करते हैं।
  7. बुखार : बुखार आने पर पपीते के बीज का सेवन काफी फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद एंटी बैक्टीरियल तत्व बार- बार फैलने वाले जीवाणुओं से रक्षा करते हैं, और आपको स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।
  8. दाद खत्म करते हैं : पपीते के बीजों का पेस्ट बनाकर पांच दिन तक लगाने से दाद से छुटकारा मिल सकता है। दरअसल इसमें एंटी फंगल गुण यौगिक होते हैं।
  9. गंभीर पेट दर्द में दे आराम : एक अध्ययन के अनुसार, गंभीर पेट दर्द और दस्त जैसी समस्या से निपटने के लिए पपीते के बीजों का रस (दिन में 0.1एमएल) पीना फायदेमंद होता है।
  10. इम्युनिटी मजबूत करते हैं : पपीते के बीजों को इम्युनिटी को मज़बूत करने के लिए जाना जाता है। एक अध्ययन के अनुसार, इनसे शरीर के कामकाज में सुधार के लिए आवश्यक पोषण मिलते हैं।
  • सावधानी : हालांकि गर्भवती महिलाओं को पपीते के बीज खाने से परहेज करना चाहिए। इससे गर्भपात होने का खतरा रहता है। इसके अलावा बहुत छोटे बच्चों को भी इसे खाने से परहेज करना चाहिए। पपीते के बीजों का सेवन करने के दौरान इस बात का ख्याल हमेशा रखना चाहिए कि इसकी मात्रा संतुलित हो। www.allayurvedic.org
➡ इसको सेवन करने की विधि :
  • पपीते के बीज आप कभी भी किसी भी समय खा सकते हैं। या पपीता खाते समय पपीते के साथ भी खा सकते हैं. इसको एक से तीन चम्मच तक खाया जा सकता है।
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch