Categories

ये 8 घरेलु उपाय चुटकी बजाते मुँह के छालों को कर देंगे छूमंतर, आज़माकर देखले



➡ मुहं में छाले होने के कारण : 
  1. कई कारणों से हमारे मुह में छाला होते है, इसका कई कारण हो सकते है।
  2. मसालेदार भोजन के अधिक सेवन करने से।
  3. समय बचाने के उपक्रम में जल्दी जल्दी खाने से।
  4. vitamin – B complex की कमी से।
  5. खाने के समय अगर हमारे दांतों से मुह के भीतरी भाग को चबा जाने से। www.allayurvedic.org
➡ मुह के छाले का उपचार :
  1. मुह का छाला वैसे तो, आसानी से कुछ दिनों के बाद चला जाता है। परन्तु कभी कभी लम्बे समय तक यह रह जाता है, जिससे काफी परेशानिया होती है। इससे कई आसान तरीको को अपना कर इससे छुटकारा पाया जा सकता है।
  2. अगर आप के मुह में अलसर हुवा हो तो अधिक से अधिक पानी का इस्तेमाल करे।
  3. रोजाना दिन में तीन बार ब्रश करे।
  4. ब्रश हमेशा मुलायम धागों वाला ही इसतेमाल करे।
  5. मसालेदार भोजन अलसर को बढ़ा सकता है , इसका भी सेवन कम करे।
  6. तंबाकू का सेवन कम करे। इन सब के सेवन से मुह के छाले में बढ़ोतरी होती है।
  7. नीम का दतुवन toothpaste का इस्तेमाल दांत साफ करने के लिए करे। इससे भी फायेदा मिलेगा। www.allayurvedic.org
➡ हल्दी (turmeric powder) :
  • हल्दी सदियों से उपचार के इलाज में इस्तेमाल किया जा रहा है। हल्दी का आयुर्वेद में तो हजारो सालो से इसका फलदायी उपयोग हो रहा है। आइये जानते है हल्दी को मुह के छाले होने पर कैसे उपयोग किआ जाये –
  • एक ग्लास पानी ले उसमे एक चम्मच हल्दी का powder को मिला ले, और उसे हल्का गर्म कर ले।
  • हल्दी mix गर्म पानी से दिन में 20 से 25 बार गर्गिल करे।
➡ शहद और इलाइची (honey & cordomon paste) :
  • शहद के साथ इलाइची के powder को मिलकर उसका paste को छाले वाले जगह पर लगाने से छाला कम हो जाता है।
  • एक चम्मच शहद ले उसमे 2 या 4 इल्लैची क के डेन की पिसा हुआ powder को mix कर ले।
  • अब उससे तैयार paste को छाले में लगा कर रखे।
➡ धनिया पत्ता (coriander Leaves) :
  • coriander leaves  सब्जियों में सुगंध के लिए इसके पत्ते की इस्तेमाल किया जाता है।
  • दो चार धनिये के पत्ते समेत तने को हलके से निचोड़ कर उसका रस को सीधे छाले में लगाये। www.allayurvedic.org
➡ चमेली (Jasmine) :
  • चमेली/ एक फूल के पौधा का नाम है। जिसमे लाल रंग के छोटे छोटे फूल, गुछे के रूप में होते है।
  • चमेली के पत्ते को पीस कर उसके रस को छाले वाले जगह में लगाने से छाला कम हो जाता है।
➡ अमरुद (Guava) :
  • अमरुद (guava) यह cheery प्रजाति का फल है, जो मुख्यता tropical climate वाले देशो में पाए जाते है।
  • अमरुद के दो पत्तियों को अपने हाथो से मसल कर के उसके रस को छाले में गर दे।
➡ बर्फ के टुकड़े (Ice cube) :
  • बर्फ के टुकड़े से छाले वाले जगह पर रखने से भी छाला ठीक हो जाता है।
  • बर्फ के छोटे से सिल्ली को मुह के ulcer में 20 से 25 second तक रखे।
  • इस प्रक्रिया को बारी बारी से 4 से 5 बार लगातार करे।
➡ तुल्सी का पत्ता (Basil leaves) :
  • तुल्सी का पत्ता/ तुल्सी का पत्ता हर किसी के आंगन में मिलता है। हिन्दू धर्म को मानने वाले अक्सर अपने आंगन में इसके पौधे को उगाते है। यह उनके धार्मिक विस्वास के प्रतिक होता है।
  • दो से चार तुल्सी के पत्ते को अपने हाथो में मसल ले फिर उसके रस को मुह में छाले के ऊपर गर दे। www.allayurvedic.org
➡ नारियल पानी (Coconut water) :
  • नारियल पानी ना केवल हमारे शरीर बल्की मुह के छाले में भी लाभदायक है।
  • नारियल के भीतर पाए जाने वाली तरल को पिने से पेट ठंडा रहता है जिससे छाला जैसी समस्या नहीं होती।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch