Categories

सिर्फ 1 चीकू आपको इन 6 अद्भुत फ़ायदों से ओत प्रोत कर देगा, चीकू खाओ जवाँ हो जाओ



  • चीकू एक सदाबहार पेड़ होता है जो आज के युग में लगभग पूरीदुनिया में पाया अथवा उगाया जाता है । अलग देशों में अलग अलग प्रजाति के चीकू पाये जाते हैं । भारतवर्ष जैसे विशाल देशों में चीकू की कई सारी प्रजातियाँ पायी जाती हैं । सामान्यत: एक चीकू का वजन 100 से 150 ग्राम तक होता है किंतु इनका आकार प्रजातियों के अनुसार अलग अलग हो सकता है । आकार प्रकार से आगे बात करें तो चीकू का भारतीय फलों में एक विशिष्ट स्थान है और सम्पूर्ण देश में समान रूप से और चाव के साथ खाया जाता है । इन सबके अतिरिक्त चीकू में बहुत से स्वास्थय लाभ भी छिपे हुये हैं जो हम जानेंगे इस पोस्ट में Allayurvedic के माध्यम से। www.allayurvedic.org

  1. आँखों को सुधारे :- जब चीकू के स्वास्थय लाभों की बाते हो रही हों तो इस से पहले कोई और लाभ ध्यान में आ ही नही सकता । चीकू में बहुत ही उत्तम प्रकार का और प्रचुर मात्रा में विटामिन ए मिलता है । विटामिन ए आँखों के सबसे ज्यादा जरूरी तत्वों में से एक है । चीकू के इस लाभ को पाने के लिये रोज एक या दो चीकू का सेवन किया जाना चाहिये ।
  2.  हड्डियों को मजबूत करे :- चीकू में कैल्शियम, फास्फोरस और ऑयरन तत्व पाये जाते हैं और ये तीनों ही तत्व हड्डियों को मजबूत बनाने के लिये सबसे ज्यादा जरूरी हैं । चीकू में मौजूद इन तीनों तत्वों का लाभ उठाने के लिये यदि बचपन से ही चीकू का नियमित सेवन किया जाये तो बढ़ती उम्र के साथ हड्डियों के कमजोर होने की शिकायत नही होगी ।
  3.  कब्ज से राहत :- पूरे चीकू फल में घुलनशील फाईबर मौजूद होता है जो पुरानी से पुरानी कब्ज में भी, नियमित सेवन किये जाने पर लाभ करता है । यदि चीकू के साथ पके पपीते का भी सेवन किया जाये और बाद में बहुत थोड़ा सा गुनगुना पानी पिया जाये तो यह प्रयोग बहुत ही उत्तम लाभ प्रदान करता है। www.allayurvedic.org
  4.  गर्भावस्था में अतयंत लाभकारी :- गर्भावस्था के समय जरूरी सभी जरूरी मुख्य तत्व जैसे कि कैल्शियम, ऑयरन, विटामिन बी आदि चीकू में पाये जाते हैं साथ ही इसका विशिष्ट स्वाद गर्भावस्था में होने वाली जी मिचलाने की समस्या का भी समाधान देता है । इस प्रकार ये समझा जा सकता है कि यदि गर्भावस्था में नियमित चीकू का सेवन किया जाये तो यह गर्भवती महिला और होने वाले शिशु दोनो को ही मजबूत बनाता है ।
  5.  ऊर्जा का स्रोत :- चीकू में ग्लुकोज़ के अवयव बहुत ही ज्यादा मात्रा में पाये जाते हैं जिस कारण से चीकू सेवन किये जाने पर तुरंत ही शरीर को ऊर्जा की पूर्ति करता है ।
  6.  भूख कम करता है :- चीकू का एक विशेष गुण होता है कि यह भूख लगना कम करता है । इसका यह असर चार-पाँच चीकू खाने के बाद आता है । ऐसी अवस्था में यह उन लोगों के लिये विशेष लाभकारी हो सकता है जो ज्यादा भूख लगने की वजह से ज्यादा खाते रहते हैं और इस कारण से उनका वजन बढ़ने लगता है । यदि वो भूख लगने पर 4-5चीकू का सेवन करें तो शरीर में लम्बे समय तक ऊर्जा बनी रहेगी और भूख भी नही लगेगी। www.allayurvedic.org
  • विशेष नोट :- चीकू में ग्लुकोज़ बहुत ही प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिस कारण से यह मधुमेह के रोगियों में शुगर के लेवल को बढ़ा सकता है । अतः मधुमेह के रोगियों को सलाह है कि वो चीकू का सेवन अपने चिकित्सक के परामर्श के अनुसार ही करे ।
  • Allayurvedic (सभी आयुर्वेद) के माध्यम से दी गयी यह पोस्ट आपको अच्छी और लाभकारी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर कीजियेगा।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch