Categories

वीर्य में एक्टिव और स्वस्थ शुक्राणु बढ़ाने के सबसे बेहतरीन रामबाण घरेलु उपाय, जरूर पढ़े.!!!



  • पुरुष के वीर्य में शुक्राणु होते हैं। ये शुक्राणु स्त्री के डिम्बाणु को निषेचित कर गर्भ धारण के लिये जिम्मेदार होते हैं। वीर्य में इन शुक्राणुओं की तादाद कम होने को शुक्राणु अल्पता की स्थिति कहा जाता है। शुक्राणु अल्पता को ओलिगोस्पर्मिया कहते हैं। लेकिन अगर वीर्य में शुक्राणुओं की मौजूदगी ही नहीं है तो इसे एज़ूस्पर्मिया संग्या दी जाती है। ऐसे पुरुष संतान पैदा करने योग्य नहीं होते हैं।
  1. ग्यारह (11) बादाम रात को पानी में भिगो दें। सुबह में छिलकर ब्लेन्डर में आधा गिलास गाय के दूध मे,एक चुटकी इलायची,केसर,अदरख भी डालकर चलाएं। यह नुस्खा वीर्य में शुक्राणुओं की तादाद बढाने का अति उत्तम उपाय है।
  2. सफ़ेद प्याज का रस 2 किलो निकालें, इसमें एक किलो शहद मिलाकर धीमी आंच पर पकाएं। जब सिर्फ़ शहद ही बच जाए तो आंच से अलग करलें । इसमें 500 ग्राम सफ़ेद मूसली का चूर्ण मिलाकर कांच या चीनी मिट्टी के बर्तन में भर लें। सुबह-शाम दो 1० से 20 ग्राम की मात्रा में लेते रहने से वीर्य में शुक्राणुओं का इजाफ़ा होता है और नपुंसकता नष्ट होती है।
  3. गाजर का रस 200 ग्राम नित्य पीने से शुक्राणु अल्पता में उपकार होता है ।
  4. शतावर और असगंध के 5 ग्राम चूर्ण को एक गिलास दूध के साथ पीना बेहद फ़ायदेमंद है।
  5. कौंच के बीज,मिश्री,तालमखाना तीनों बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण बनालें। 3-3 ग्राम चूर्ण सुबह शाम दूध के साथ लेने से शुक्राणु अल्पता समाप्त होकर पुरुषत्व बढता है। www.allayurvedic.org
  6. गोखरू को दूध में ऊबालकर सुखावें। यह प्रक्रिया ३ बार करें। फ़िर सुखाये हुए गोखरू का चूर्ण बनालें। ५ ग्राम की मात्रा में उपयोग करने से मूत्र संस्थान के रोग ,नपुंसकता और शुक्राणु अल्पता मे आशातीत लाभ होता है।
  7. याद रहे सुबह 4 बजे और अपरान्ह में शरीर में शुक्राणुओं का स्तर उच्चतम रहता है। अत: गर्भ स्थापना के लिये ये समय महत्व के हैं।
  8. मशरूम में प्रचुर ज़िन्क होता है इसके सेवन से वीर्य में शुक्राणु बढते हैं ।इसमे डोपेमाईन होता है जो कामेच्छा जागृत करता है।
  9. भोजन में लहसुन और प्याज शामिल करें।
  10. शुक्राणु की गुणवत्ता बढाने के उपाय : अखरोट खाने से पुरूषों में शुक्राणुओं की संख्या और उसकी गुणवत्ता दोनों बढ सकती है।
  11. भिंडी से करें शुक्राणु को गाढ़ा : भिंडी की सब्जी पाचन शक्ति के अनुसार खानी चाहिए। शरीर में खून की कमी की शिकायत दूर करती है। यह खून को भी बढ़ाती है। सभी लोगों से परिचित भिंडी नामक साधारण सब्जी भिंडी शुक्राणु को गाढ़ा करती है तथा संभोग की शक्ति को बढ़ाती है। जिन व्यक्तियों का शुक्राणु पतला हो उन्हें नर्म व मुलायम भिंडी जिसमें बीज न पड़े हों इसका पावडर 5-10 ग्राम तक सेवन करना चाहिए। भिंडी के अन्य औषधीय गुण मूत्र द्वार में छीलन सूजन मूत्र त्यागते समय दर्द और सूजन में इसका काढ़ा लाभकारी है।
  12. दवाओं का ज्यादा सेवन : बात-बात में पेनकिलर लेना कैंसर के कारक हो सकते हैं। हमें अपनी सहनशीलता बढ़ानी चाहिए। थोड़ी-सी परेशानी होने पर दवाइयों के पीछे नहीं भागना चाहिए। इसके बजाय घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल कर सकते हैं।
loading...
Thank you for visit our website

टिप्पणि Facebook

टिप्पण Google+

टिप्पणियाँ DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch